NDTV Khabar
होम | जम्मू-कश्मीर

जम्मू-कश्मीर

  • जम्मू-कश्मीर के लोगों के प्रति जवाबदेही का बोध कराने के लिए बीजेपी देश भर में चलाएगी अभियान
    जम्मू-कश्मीर में आर्टिकल 370 के अधिकांश प्रावधान हटने के बाद बीजेपी एक सितंबर से 30 सितंबर तक जनसंपर्क अभियान और जनजागरण अभियान चलाएगी. जम्मू-कश्मीर का विशेष राज्य का दर्जा हटाने के निर्णय की संपूर्ण जानकारी देश की जनता को देने और वहां की जनता के प्रति लोगों में उत्तरदायित्व का बोध कराने के लिए सभी छोटे-बड़े शहरों में जनजागृति के लिए अभियान चलेगा. इसके तहत बीजेपी के मंत्री और पार्टी पदाधिकारी जनता से संपर्क करेंगे. केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और गजेंद्र सिंह शेखावत ने आज यह जानकारी दी.
  • जम्मू-कश्मीर में ऐसा माहौल बनाएंगे कि पीओके के लोग भी कहना शुरू देंगे कि यह रहने की सबसे आदर्श जगह : सत्यपाल मलिक
    जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक ने एक बार फिर कांग्रेस नेता राहुल गांधी पर निशाना है. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने उनके जम्मू-कश्मीर आने के न्यौते को कुछ ज्यादा खींच दिया. मलिक ने कहा, 'मैंने उनसे कहा था कि अगर वह हमारे विश्वास नहीं करते हैं तो आएं और देखें. लेकिन उन्होंने बाद में कहा कि वह नजरबंद लोगों से मिलना चाहते हैं, सेना से मिलना चाहते हैं. तब मैंने उनसे कहा कि मैं यह स्वीकार नहीं कर सकता हूं और पूरा मामला प्रशासन पर छोड़ दिया.'
  • कांग्रेस नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा, सत्यपाल मलिक को जम्मू-कश्मीर बीजेपी का अध्यक्ष बनाना चाहिए
    लोकसभा में कांग्रेस के नेता अधीर रंजन चौधरी ने कहा है कि जम्मू-कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक को राज्य बीजेपी का अध्यक्ष होना चाहिए क्योंकि उनका व्यवहार और बयान बीजेपी नेता की तरह है.
  • राहुल गांधी बोले, विपक्ष को जम्मू-कश्मीर में बर्बर बल प्रयोग का एहसास हुआ, स्पष्ट है कि...
    उन्होंने कहा कि विपक्ष के नेताओं और प्रेस को प्रशासनिक क्रूरता और जम्मू-कश्मीर के लोगों पर किये जा रहे बल के बर्बर प्रयोग का अहसास हुआ, जब हमने शनिवार को श्रीनगर जाने की कोशिश की. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने शनिवार के घटनाक्रम का एक वीडियो भी पोस्ट किया जिसमें अधिकारी विपक्षी नेताओं और राहुल के सामने एक आदेश को पढ़ कर सुना रहे थे.
  • जम्मू कश्मीर में खाई में गिरा टेंपो ट्रैवलर, सात की मौत जबकि 25 हुए घायल
    इस हादसे में एक नाबालिग समेत पांच लोगों की मौत हो गयी जबकि 25 अन्य घायल हो गए. जानकारी के मुताबिक रजौरी के जिला विकास आयुक्त एजाज असद ने पीटीआई-भाषा को बताया कि पुंछ से शरदा शरीफ जा रहा टेम्पो ट्रेवलर थानामंडी इलाके में करीब डेढ़ बजे 800 मीटर गहरी खाई में गिर गया. उन्होंने बताया कि मोड़ पर वाहन के अनियंत्रित होने से यह हादसा हुआ.
  • आर्टिकल 370 हटने के बाद श्रीनगर के सिविल सचिवालय भवन से हटाया गया राज्य का झंडा, लहराया तिरंगा
    Jammu Kashmir flag: जम्मू-कश्मीर से आर्टिकल 370 के कुछ प्रावधानों को हटाए जाने के बाद श्रीनगर के सिविल सचिवालय भवन से राज्य का झंडा हटा दिया गया है और इसकी जगह राष्ट्रीय ध्वज तिरंगा लगा दिया गया है. समाचार एजेंसी एएनआई द्वारी जारी तस्वीरों में सिविल सचिवालय भवन के उपर तिरंगा झंडा लहराता हुआ दिख रहा है.
  • जम्मू कश्मीर में कब तक जारी रहेंगे प्रतिबंध, इस सवाल के जवाब में सत्यपाल मलिक ने कही ये बात
    जम्मू कश्मीर (Jammu And Kashmir) के राज्यपाल सत्यपाल मलिक (Satya Pal Malik) ने रविवार को राज्य में दवाओं और आवश्यक वस्तुओं की किसी कमी से इनकार करते हुए कहा कि संचार माध्यमों पर पाबंदियों की वजह से वहां बहुत सी जिंदगियां बचीं. मलिक ने यह भी कहा कि जम्मू कश्मीर को अनुच्छेद 370 के तहत दिए गए विशेष दर्जे को खत्म करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित किए जाने के बाद राज्य में हिंसा में किसी शख्स की जान नहीं गई है.
  • राहुल गांधी समेत विपक्ष के 12 नेता पहुंच रहे हैं जम्मू-कश्मीर, प्रशासन ने आने से किया मना
    अनुच्छेद 370 हटने के बाद पहली बार राहुल गांधी और विपक्ष के 11 नेता आज जम्मू-कश्मीर के दौरे पर जाएंगे. राहुल के साथ कांग्रेस के ग़ुलाम नबी आज़ाद, केसी वेणुगोपाल, आनंद शर्मा, लेफ़्ट के सीताराम येचुरी, डी राजा,  डीएमके के तिरुची शिवा, टीएमसी के दिनेश त्रिवेदी, एनसीपी के माजिद मेमन, आरजेडी के मनोज झा और जेडीएस के उपेंद्र रेड्डी भी होंगे. इनके अलावा शरद यादव भी कश्मीर जाने वाले नेताओं में शामिल हैं. अनुच्छेद 370 ख़त्म होने के बाद राहुल ने ट्वीट कर जम्मू-कश्मीर की स्थिति पर सवाल उठाए थे.  
  • राहुल गांधी सहित कई विपक्षी नेता शनिवार को करेंगे कश्मीर का दौरा
    कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और कई अन्य विपक्षी दलों के नेता शनिवार को कश्मीर का दौरा करेंगे और वहां अनुच्छेद 370 के प्रमुख प्रावधानों को हटाए जाने के बाद वहां की स्थिति का जायजा लेंगे. सूत्रों के मुताबिक गांधी के अलावा कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद और आनंद शर्मा, भाकपा महासचिव डी राजा, राष्ट्रीय जनता दल के मनोज झा सहित कई अन्य नेता शामिल होंगे. 
  • कश्मीर से 370 हटने के बाद, कल के जिगरी दोस्त आज मुलाकात को मोहताज!
    1990 के दशक में कश्मीर घाटी में खौफ का दूसरा नाम रहे दो दोस्तों की आज तिहाड़ की सलाखों में हालत खराब है. तीन दशक पहले इसी जोड़ी के नाम से कश्मीर में अच्छे-अच्छों को पसीना आ जाता था. कभी कंधे से कंधा मिलाकर घाटी को खून से रंगने के लिए कुख्यात रही यह जोड़ी सिर्फ कुछ कदमों की दूरी पर रहने के बावजूद फिलहाल एक दूसरे की शक्ल देखने को तरस गई है. 
  • जम्मू हवाईअड्डे पर गुलाम नबी आजाद को रोका गया, दिल्ली वापस भेजा
    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद को मंगलवार को जम्मू हवाईअड्डे पर रोक दिया गया और उन्हें वापस दिल्ली भेज दिया गया. पार्टी के एक नेता ने यह जानकारी दी. जम्मू कश्मीर का विशेष दर्जा वापस लिए जाने के बाद इस महीने में यह दूसरी बार है जब राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री को यहां आने की इजाजत नहीं दी गई.
  • जम्मू कश्मीर: आर्टिकल 370 हटने के बाद लोगों का खर्चीली शादियों से परहेज, मेहमानों की सूची घटी, ज्वैलरी और मीट कारोबार पर असर
    लोगों की आवाजाही पर पाबंदी लगने के बाद चमक-दमक वाली शादियां नहीं होने के चलते मांस आपूर्तिकर्ता, विवाह में पहने जाने वाले आभूषणों के विक्रेता और वाजवान (पारंपरिक कश्मीरी व्यंजन) खानसामों का कारोबार प्रभावित हुआ है.
  • एयरफोर्स के जाबांज जवानों ने नदी में फंसे लोगों को कुछ इस तरह बचाया, देखें VIDEO
    रेस्क्यू के लिए हेलीकॉप्टर से लटकाई गई रस्सी टूट गई और रेस्क्यू टीम के 2 लोग बह गए. हालांकि बाद में दोनों को सुरक्षित बचा लिया गया. वहीं पहली कोशिश नाकाम होने के बाद हेलीकॉप्टर दूसरी रस्सी लेकर आया और फिर फंसे लोगों को बाहर निकाला गया. 
  • Shehla Rashid Tweet: कश्मीर के हालातों पर दावा करके फंसी शेहला रशीद, फर्जी खबरें फैलाने को लेकर आपराधिक शिकायत दर्ज
    Shehla Rashid: शेहला ने ट्विटर के माध्यम से दावा किया कि भारतीय सेना द्वारा घाटी के लोगों पर अत्याचार किए जा रहे हैं. शेहला ने एक के बाद एक करते हुए लगातार 10 ट्वीट किए, जिसके बाद भारतीय सेना रशीद के सभी दावों को खारिज करते हुए इसे फेक न्यूज करार दिया. भारतीय सेना के मुताबिक सभी आरोप बेबुनियाद हैं.
  • घाटी के हालात: शिक्षक पहुंचे स्कूल, पर ज्यादातर छात्र रहे नदारद
    केवल बेमिना स्थित ‘पुलिस पब्लिक स्कूल’ और कुछेक केन्द्रीय विद्यालयों में ही थोड़े बहुत छात्र पहुंचे. एक अभिभावक फारूक अहमद डार ने कहा, ‘स्थिति इतनी ज्यादा अनिश्चित है कि अभी बच्चों को स्कूल भेजने का सवाल ही नहीं उठता.’ बारामुला जिले के अधिकारियों ने बताया कि पांच शहरों में स्कूल बंद रहे. बाकी जिले में स्कूल खुले हैं. अधिकारी ने कहा, ‘पट्टन, पल्हालन, सिंहपूरा, बारामुला और सोपोर में प्रतिबंधों में कोई ढील नहीं दी गई है. जिले में बाकी जगह प्राथमिक स्कूल खुले थे. कितने छात्र स्कूल पहुंचे इस संबंध में हम जानकारी हासिल कर रहे हैं.’
  • कश्मीर घाटी के 35 पुलिस थाना इलाकों में पाबंदियों में ढील, किश्तवाड़ में दिन भर के लिए हटाई गई धारा-144
    कश्मीर घाटी में कड़ी सुरक्षा के बीच लोगों की आवाजाही पर पाबंदियों में शनिवार को ढील दी गई. शहर के कुछ इलाकों में लैंडलाइन सेवा बहाल कर दी गई है. अधिकारियों ने बताया कि कश्मीर के 35 पुलिस थाना इलाकों में पाबंदियों में ढील दी गई है जबकि घाटी में कुल 96 टेलीफोन एक्सचेंज में से 17 को बहाल कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि सरकारी कर्मचारियों को अपने-अपने कार्यालयों में जाने देने के लिए पाबंदियों में ढील दी गई.
  • जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से छोटे हथियारों और मोर्टार से फायरिंग, सेना ने भी दिया जवाब
    जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने के बाद से पाकिस्तान बुरी तरह से बौखलाया हुआ है.  सीमा पार से लगातार उसकी हरकतें जारी हैं. जम्मू-कश्मीर के नौशेरा सेक्टर में सुबह 6.30 बजे से पाकिस्तान की सेना की ओर से छोटे हथियारों से लेकर मोर्टार से की फायरिंग की गई. वहीं भारतीय सेना ने भी इसका मुंहतोड़ जवाब दिया है. आपको बता दें कि जम्मू- कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाये जाने के बाद से दोनों देशों के बीच तनातनी बढ़ गई है. सीमा के आसपास आतंकवादियों की हरकतें बढ़ गई हैं. पाकिस्तान की पूरी कोशिश  कर रहा है कि किसी तरह से आतंकवादियों को भारतीय सीमा में प्रवेश करा दिया जाए लेकिन भारतीय सेना ने भी इस समय जबरदस्त चौकसी बरत रही है.
  • जम्मू - कश्मीर इकाई के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर को हिरासत में लेने पर पी. चिदंबरम ने कहा- गैर कानूनी
    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी. चिदंबरम ने शनिवार को कहा कि उनकी पार्टी की जम्मू - कश्मीर इकाई के अध्यक्ष गुलाम अहमद मीर को हिरासत में लिया जाना पूरी तरह गैरकानूनी है.  उन्होंने यह उम्मीद भी जताई कि अदालतें नागरिकों की स्वतंत्रता सुनिश्चित करेंगी. पूर्व गृह मंत्री चिदंबरम ने ट्वीट कर कहा, ''गुलाम अहमद मीर शुक्रवार से नजरबंद हैं. उन्हें हिरासत में लेने का कोई लिखित आदेश नहीं था. यह गैरकानूनी है.'' उन्होंने कहा, ''सरकार के पास कोई अधिकार नहीं है कि वह कानूनी प्राधिकार के बिना नागरिकों को एक पल के लिए भी उनकी आजादी से वंचित करे.
  • जम्मू-कश्मीर के 2400 छात्रों को सुप्रीम कोर्ट से मिली राहत
    जम्मू-कश्मीर के 2400 छात्रों को सुप्रीम कोर्ट ने राहत दे दी है. प्रधानमंत्री विशेष छात्रवृति योजना के तहत देश के अन्य कॉलेजों में दाखिला लेने की तारीख सुप्रीम कोर्ट ने बढ़ाकर 15 सितंबर कर दी है. छात्रों के लिए जम्मू कश्मीर सरकार सुप्रीम कोर्ट पहुंची थी. इंजीनियरिंग में दाखिले की समय सीमा बढ़ाने की मांग की गई थी. जम्मू कश्मीर के हालात को देखते हुए समय सीमा महीना भर बढ़ाने की याचिका दाखिल की गई थी.
  • पटरी पर लौटता कश्मीर: चरणबद्ध तरीके से बहाल होंगी फोन लाइनें, सोमवार से खुलने लगेंगे स्कूल
    जम्मू-कश्मीर (Jammu Kashmir) के हालात धीरे-धीरे सामान्य हो रहे हैं. हालात के हिसाब से यहां पाबंदियों में भी छूट दी जा रही है. जम्मू-कश्मीर में फोन लाइनें भी अलग-अलग इलाकों में चरणबद्ध तरीके से बहाल होनी शुरू हो जाएंगी. साथ ही सोमवार से स्कूल भी 'क्षेत्रवार' तरीके से खोले जाएंगे.
«1234567»

Advertisement