NDTV Khabar

सेना प्रमुख ने कश्मीर में कट्टरपंथ की समस्या के लिए सोशल मीडिया को ठहराया जिम्मेदार

एक दिन के दौरे पर आए रावत ने राज्य में चोटी काटने की कथित घटनाओं के मुद्दे को 'सामान्य विषय' बताया और कहा कि इससे नागरिक प्रशासन और पुलिस को निपटना है.

226 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सेना प्रमुख ने कश्मीर में कट्टरपंथ की समस्या के लिए सोशल मीडिया को ठहराया जिम्मेदार

सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत एक दिन के जम्मू कश्मीर दौरे पर थे.

खास बातें

  1. बोले, कश्मीर में कट्टरपंथ को गंभीरता से दूर किया जा रहा
  2. सेना प्रमुख ने कहा कि कट्टरपंथ की समस्या पूरे देश में है
  3. उन्होंने चोटी काटने की घटनाओं को 'सामान्य विषय' बताया
जम्मू: सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने कहा कि कश्मीर में कट्टरपंथ की समस्या का समाधान 'काफी गंभीरता' से किया जा रहा है. साथ ही इसके बढ़ने के लिए उन्होंने सोशल मीडिया को जिम्मेदार ठहराया. एक दिन के दौरे पर आए रावत ने राज्य में चोटी काटने की कथित घटनाओं के मुद्दे को 'सामान्य विषय' बताया और कहा कि इससे नागरिक प्रशासन और पुलिस को निपटना है.

यह भी पढ़ें : सेना प्रमुख बिपिन रावत का पाकिस्‍तान को कड़ा संदेश, जरूरत पड़ी तो फिर होगी सर्जिकल स्‍ट्राइक

पूरी दुनिया में कट्टरपंथ हो रहा है
रावत ने कहा, कट्टरपंथ हो रहा है. ऐसा पूरी दुनिया में हो रहा है. हम काफी गंभीरता से इससे निपट रहे हैं. रावत ने कहा कि जम्मू-कश्मीर सरकार, पुलिस, प्रशासन और हर कोई कट्टरपंथ को लेकर चिंतित है. रावत ने कहा, हम यह सुनिश्चित करने का प्रयास कर रहे हैं कि लोग इस तरह के कट्टरपंथ से दूर रहें. सेना प्रमुख ने लोगों के कट्टरपंथी बनने के लिए सोशल मीडिया को जिम्मेदार ठहराया.

VIDEO:  Mojo: सरहद पार की तो जमीन में गाड़ देंगे- जनरल बिपिन रावत

उन्होंने कहा, ऐसा (कट्टरपंथ) मुख्यत: सोशल मीडिया की वजह से हो रहा है. चोटी काटने की कथित घटनाओं के कारण सरकार और सुरक्षा एजेंसियों के समक्ष आ रही चुनौतियों के बारे में पूछे जाने पर रावत ने कहा, आप इसे चुनौती के रूप में क्यों देख रहे हैं. सेना प्रमुख ने कहा कि ऐसा देश के अन्य इलाकों में भी हो रहा है और अब ऐसा कश्मीर में भी होने लगा है. यह पूछने पर कि क्या अलगाववादी इसका फायदा घाटी में अशांति फैलाने में कर रहे हैं तो उन्होंने कहा कि इसके पीछे की सच्चाई को सामने लाने में मीडिया की भूमिका अहम है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement