NDTV Khabar

हम न भूलेंगे और न ही माफ करेंगे, इस जघन्य हमले का बदला लेकर रहेंगे: पुलवामा हमले पर CRPF की कड़ी टिप्पणी

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Terror Attack) में आतंकवादियों ने कायरतापूर्ण जो हमला किया है, उस पर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल यानी सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया आई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
हम न भूलेंगे और न ही माफ करेंगे, इस जघन्य हमले का बदला लेकर रहेंगे: पुलवामा हमले पर CRPF की कड़ी टिप्पणी

Pulwama Terror Attack: पुलवामा हमले का बदले लेगा सीआरपीएफ

खास बातें

  1. सीआरपीएफ ने पुलवामा हमले का बदला लेने की बात की.
  2. पुलवामा हमले में अब तक करीब 41 जवान शहीद हो चुके हैं.
  3. सीआरपीएफ ने कहा कि वह इस हमले को नहीं भूलेगी.
नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा (Pulwama Terror Attack) में आतंकवादियों ने कायरतापूर्ण जो हमला किया है, उस पर केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल यानी सीआरपीएफ (Central Reserve Police Force) की ओर से कड़ी प्रतिक्रिया आई है. पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Attack) में अपने 41 साथियों को खोने वाले सीआरपीएफ ने स्पष्ट कह दिया है कि वह इस हमले को न भूलेगा और न ही माफ करेगा. सीआरपीएफ ने आतंकियों को कड़े लहजे में कहा है कि वह इस जघन्य हमले का बदला जरूर लेगी. दरअसल, गुरुवार को पुलवामा (Pulwama Blast) में सीआरपीएफ के काफिले पर फिदायीन हमले में 41 जवान शहीद हो गए थे. इसके बाद पूरे देश में रोष का माहौल है. 

Pulwama Terror Attack: गृहमंत्री राजनाथ सिंह बडगाम पहुंच शहीद जवान को दिया कंधा, देखें VIDEO

सीआरपीएफ ने एक ट्वीट कर कहा कि हम न भूलेंगे और न ही माफ करेंगे. हम पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवानों को हम सलाम करते हैं और अपने शहीद भाइयों के परिवार वालों के साथ खड़े हैं. इस जघन्य हमले का बदला लिया जाएगा.' इस ट्वीट के साथ सीआरपीएफ ने एक फोटो भी शेयर किया है, जिसके माध्यम से उसने अपने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी है.  बता दें कि पुलवामा आतंकी हमले की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) ने ली है. 


Pulwama Attack: अब पाकिस्तान नहीं जाएंगे जावेद अख्तर-शबाना आजमी, लिखा- 'कृष्ण ने अर्जुन से कहा...'

दरअसल, गुरुवार को सीआरपीएफ का काफिला जम्मू से श्रीनगर जा रहा था. इस काफिले में करीब 70 गाड़ियां थीं और 2500 जवान शामिल थे. उसी दौरान सामने से विस्फोटक से लदी एक एसयूवी कार आई और उसने सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी. आतंकवादी ने जिस कार से टक्कर मारी थी, उसमें करीब 350 किलो विस्फोटक थे. इसकी वजह से विस्फोट इतना घातक हुआ कि इसमें 41 जवान शहीद हो गए. इस घटना पर पीएम मोदी ने सीधे तौर पर कहा है कि आतंकी बहुत बड़ी गलती कर चुके हैं और अब उन्हें इसका अंजाम भी भूगतना होगा. 

पुलवामाः शहीद होने से पहले जवान ने पत्नी से कहा- तुम बच्चे के साथ स्कूल चली जाना, मैं तो सीमा पर हूं

वहीं, केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने शुक्रवार को जम्मू कश्मीर में बृहस्पतिवार को शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों की पार्थिव देह पर पुष्पचक्र अर्पित करने के बाद एक शहीद जवान को कंधा दिया . दिल्ली से यहां पहुंचते ही गृह मंत्री ने श्रद्धांजलि सभा में शिरकत की जहां 40 सीआरपीएफ जवानों की पार्थिव देह तिरंगे में लिपटे ताबूतों में रखी गयीं.     समारोह में उपस्थित एक अधिकारी ने बताया कि सिंह ने एक शहीद सीआरपीएफ जवान को कंधा भी दिया. इसके बाद पार्थिव देह को विमान से जम्मू कश्मीर से ले जाया गया. 

पुलवामा हमले के बाद भी चीन ने मसूद अजहर को वैश्विक आतंकवादी घोषित करने की अपील का समर्थन से किया इनकार

टिप्पणियां

गृह मंत्री सिंह, जम्मू कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक, गृह सचिव राजीव गौबा, सीआरपीएफ महानिदेशक आर आर भटनागर, जम्मू कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह और अन्य लोगों ने शहीद जवानों को पुष्पांजलि अर्पित की.  सिंह ने कहा, ‘‘राष्ट्र हमारे बहादुर सीआरपीएफ जवानों के सर्वेाच्च बलिदान को नहीं भूलेगा। मैंने पुलवामा के शहीदों को अपनी अंतिम श्रद्धांजलि दे दी है। बलिदान व्यर्थ नहीं जाएगा. '    अधिकारी के अनुसार जब तक ताबूतों को श्रीनगर हवाईअड्डे जा रहे ट्रक में रखा गया तब तक उपस्थित सभी गणमान्य लोग मौन खड़े रहे. 

VIDEO: पुलवामा हमलाः शहीद जवानों का पार्थिव शरीर लाया गया वडगाम, दी गई श्रद्धांजलि



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement