NDTV Khabar

जम्मू-कश्मीर के माछिल सेक्टर में दो आतंकी ढेर, अरनिया में पाकिस्तान ने बिना वजह फिर की फायरिंग

सेना ने जम्मू-कश्मीर के माछिल सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास आतंकियों की घुसपैठ की एक बड़ी कोशिश को नाकाम कर दिया.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
जम्मू-कश्मीर के माछिल सेक्टर में दो आतंकी ढेर, अरनिया में पाकिस्तान ने बिना वजह फिर की फायरिंग

सेना ने माछिल सेक्टर में दो आतंकियों को ढेर कर दिया (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. आतंकियों की घुसपैठ की कोशिश की गई नाकाम
  2. अरनिया में पाकिस्तान ने तोड़ा सीजफायर
  3. भारतीय चौकियों और रिहायशी बस्तियों को निशाना बनाकर की फायरिंग
नई दिल्ली: सेना ने जम्मू-कश्मीर के माछिल सेक्टर में नियंत्रण रेखा के पास आतंकियों की घुसपैठ की एक बड़ी कोशिश को नाकाम कर दिया. इस दौरान सेना ने दो आतंकियों को मार गिराया. इलाके में फिलहाल सर्च ऑपरेशन जारी है. उधर, पाकिस्तानी सेना ने अरनिया सेक्टर में सीजफायर का उल्लंघन करते हुए गोलीबारी की. पाकिस्तानी सेना ने  भारतीय चौकियों और रिहायशी बस्तियों को निशाना बनाकर फायरिंग की. भारत की ओर से इस फायरिंग का करारा जवाब दिया गया. आधी रात से शुरू हुई यह गोलीबारी सुबह पौने सात बजे बंद हुई. बीएसएफ के एक अधिकारी ने बताया कि साई, त्रेवा और जबाउल गांवों में पाकिस्तान की गोलीबारी में एक मंदिर, दो मकान और तीन गौशालाओं को नुकसान पहुंचा है. बता दें कि शुक्रवार को भी जम्मू जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास पाकिस्तानी सैनिकों ने बिना उकसावे की फायरिंग की थी. सीमापार से हुई गोलाबारी में बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया था.

यह भी पढ़ें: पाकिस्तानी सैनिकों ने उड़ी सेक्टर में तोड़ा सीजफायर, फायरिंग में एक महिला घायल

कांस्टेबल बिजेंद्र अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास अरनिया सेक्टर में अग्रिम चौकी पर बाड़ के पास तैनात थे. तभी देर रात करीब 12 बजकर 20 मिनट पर पाकिस्तानी सैनिकों ने मोर्टार दागे और गोलीबारी शुरू कर दी. शहीद कांस्टेबल उत्तर प्रदेश के बलिया जिले के रहने वाले थे. इससे पहले गुरुवार को बीएसएफ की ओर से की कई जवाबी कार्रवाई में दो पाकिस्तानी सैनिक मारे गए थे. बुधवार को अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास और जम्मू तथा पूंछ जिले में नियंत्रण रेखा पर पाकिस्तानी सैनिकों की और से की गई बिना उकसावे की गोलीबारी में तीन भारतीय जवान घायल हो गए थे.

VIDEO : पाकिस्तानी फायरिंग में BSF जवान शहीद
इस साल पाकिस्तानी सैनिकों द्वारा संघर्षविराम उल्लंघन की घटनाएं काफी बढ़ गई हैं. 1 अगस्त तक पाकिस्तान सेना 285 बार संघर्षविराम उल्लंघन कर चुकी थी. साल 2016 में पाकिस्तान की ओर से कुल 228 बार संघर्षविराम उल्लंघन किया गया था.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement