NDTV Khabar

Pulwama Terror Attack: बडगाम पहुंच गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने शहीद जवान को दिया कंधा, देखें VIDEO

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह बडगाम पहुंचे. इस दौरान राजनाथ सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवानों को कंधा दिया.  

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
नई दिल्ली:

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा आतंकी हमले (Pulwama Terror Attack) में शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह बडगाम पहुंचे. इस दौरान राजनाथ सिंह ने पुलवामा आतंकी हमले में शहीद जवान को कंधा दिया. समाचार एजेंसी एएनआई ने एक वीडियो जारी किया है, जिसमें बडगाम में पुलवामा हमले में शहीद हुए एक CRPF जवान को कंधा देते केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह और जम्मू एवं कश्मीर के DGP दिलबाग सिंह नजर आए. इतना ही नहीं, केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह, जम्मू एवं कश्मीर के राज्यपाल सत्यपाल मलिक तथा भारतीय सेना की उत्तरी कमान के प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल रणबीर सिंह ने बडगाम में पुलवामा हमले में शहीद हुए CRPF जवानों को श्रद्धांजलि भी दी.

Pulwama Attack: अब पाकिस्तान नहीं जाएंगे जावेद अख्तर-शबाना आजमी, लिखा- 'कृष्ण ने अर्जुन से कहा...'


केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह शहीद जवानों को श्रद्धांजलि देने के लिए दोपहर दो बजे श्रीनगर पहुंचे. वहां से वह बडगाम गए. बताया जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुआ यह आतंकी हमला सदी का सबसे बड़ा आतंकी हमला है. 

Pulwama Attack: गर्भवती पत्नी ने फूट-फूटकर रोते हुए सुनाए शहीद पति के आखिरी शब्द, कहा था- 'श्रीनगर पहुंचकर कॉल करता हूं...'

दरअसल, गुरुवार को जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकी ने विस्फोटक से लदी कार से सीआरपीएफ के बस में टक्कर मार दी थी, जिसमें करीब 41 जवान शहीद हो गए थे. सीआरपीएफ काफिले पर हुए हमले में करीब 350 किलो IED का इस्तेमाल हुआ. आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद (Jaish-e-Mohammed) ने हमले की जिम्मेदारी ली और इसे आत्मघाती बताया. इस घटना से पूरे देश में रोष का माहौल है. इस नापाक हरकत के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर पूरे देश में मांग की जा रही है. बताया जा रहा है कि उरी से भी बड़ा आतंकी हमला है.

2008 से लेकर 2018 तक: 2012 में हुए सबसे कम जवान शहीद, 2018 में हुईं सबसे ज्यादा आतंकी घटनाएं

सेना के एक अधिकारी ने बताया कि सीआरपीएफ जवानों को निशाना बनाकर किए गए आईईडी विस्फोट की जिम्मेदारी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है. बता दें कि यह हमला श्रीनगर से सिर्फ 20 किलोमीटर की दूरी पर हुआ है. पीएम मोदी ने भी इस घटना पर दुख जताते हुए कहा है कि जवानों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा. पीएम मोदी ने पाकिस्तान को सीधे तौर पर कहा है कि हमले के बाद लोगों का खून खौल रहा है और उन्होंने सुरक्षाबलों को पूरी छूट दे दी है. 

टिप्पणियां

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा जिले में सीआरपीएफ के काफिले पर हुए आत्मघाती हमले के बाद भारत ने बड़ा कदम उठाते हुए पाकिस्तान को दिया गया सर्वाधिक तरजीही राष्ट्र का दर्जा वापस ले लिया है. प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सुरक्षा मामलों की मंत्रिमंडल समिति (सीसीएस) की शुक्रवार को हुई बैठक में यह फैसला किया गया. बैठक की जानकारी देते हुए केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने संवाददाताओं से कहा कि प्रधानमंत्री की अध्यक्षता में हुई सीसीएस की बैठक में भारत की ओर से पाकिस्तान को दिया गया सर्वाधिक तरजीही राष्ट्र (मोस्ट फेवर्ड नेशन) का दर्जा वापस लेने का फैसला किया गया. इस बारे में वाणिज्य मंत्रालय आगे की कार्रवाई करेगा. 


VIDEO: पुलवामा अटैक में यूपी के सर्वाधिक 12 जवान शहीद​



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement