झारखंड के पाकुड़ में BJP कार्यकर्ताओं ने की स्वामी अग्निवेश से मारपीट, 20 हमलावर हिरासत में

झारखंड के पाकुड़ में स्वामी अग्निवेश पर कथित रूप से बीजेपी कार्यकर्ताओं ने हमला कर उनके साथ मारपीट की.

झारखंड के पाकुड़ में BJP कार्यकर्ताओं ने की स्वामी अग्निवेश से मारपीट, 20 हमलावर हिरासत में

झारखंड के पाकुड़ में स्वामी अग्निवेश का बीजेपी कार्यकर्ताओं ने किया विरोध

खास बातें

  • स्वामी अग्निवेश पर भीड़ का हमला
  • अग्निवेश के कपड़े फाड़े, बुरी तरह पीटा
  • पाकुड़ में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे
नई दिल्ली:

झारखंड के पाकुड़ में  सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश पर कथित रूप से बीजेपी कार्यकर्ताओं ने हमला कर उनके साथ मारपीट की. बीजेपी कार्यकर्ताओं ने उन्हें काले झंडे दिखाए और हाथापाई की. बताया जा रहा है कि स्वामी अग्निवेश एक कार्यक्रम में शामिल होने पाकुड़ पहुंचे थे. जब उनके साथ यह घटना हुई उस समय वह होटल से बाहर निकले थे. पुलिस ने कहा कि स्वामी (78) लिटपाड़ा में 195वें दमिन महोत्सव में शामिल होने जा रहे थे. भीड़ ने उनके कपड़े फाड़े और उनके साथ मारपीट की. 
 


हमलावरों ने पहले नारेबाजी करते हुए उन्हें काले झंडे दिखाए और इसके बाद उनके साथ मारपीट की. जिससे  स्वामी अग्निवेश जमीन पर गिर गए. उनके सहयोगियों ने उन्हें बचाने की पूरी कोशिश की. पुलिस ने 20 हमलावरों को हिरासत में ले लिया है.
 
बाद में झारखंड के मुख्यमंत्री रघुवर दास ने सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्विवेश से मारपीट मामले की जांच के आदेश दिए हैं. 


VIDEO: झारखंड में स्वामी अग्निवेश से हाथापाई

Newsbeep

NDTV  से स्‍वामी अग्निवेश ने कहा कि मैं हिंसा के खिलाफ हूं. मैं शांतिप्रिय इंसान हूं. मुझे नहीं पता कि ये हमला क्‍यों किया गया.  मैंने इस मामले की जांच की मांगी की है. उन्‍होंने कहा कि हमला करने वालों ने मुझे गाली भी दी और उस वक्‍त कोई पुलिसवाला मेरे आसपास मौजूद नहीं था. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


स्वामी अग्निवेश ने कहा, 'मैं समझता था कि झारखंड एक शांतिपूर्ण राज्य है, लेकिन इस घटना के बाद मेरे विचार बदल गए हैं. घटना की एक कथित वीडियो सोशल मीडिया और टीवी चैनलों पर चल रही है, जिमसें भीड़ सामाजिक कार्यकर्ता और उनके समर्थकों को कथित रूप से पीटते हुए दिख रही है. घटना के बारे में पूछने पर, पुलिस अधीक्षक शैलेंद्र प्रसाद बर्नवाल ने कहा कि जिले में अग्निवेश के कार्यक्रम को लेकर उनके पास पहले से जानकारी नहीं थी. पाकुड़ के उपमंडलीय पुलिस अधिकारी अशोक कुमार सिंह ने कहा कि दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा.