Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

झारखंड में वैष्णो देवी के तर्ज पर दो सौ करोड़ में विकसित होगा छिन्नमस्तिका मंदिर

मुख्यमंत्री ने कहा कि मंदिर क्षेत्र को विकसित करने से पूर्व यहां स्थित दुकानदारों को व्यवस्थित किया जायेगा. यहाँ 500 से 600 दुकानों तथा बस स्टैण्ड का निर्माण किया जाएगा.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
झारखंड में वैष्णो देवी के तर्ज पर दो सौ करोड़ में विकसित होगा छिन्नमस्तिका मंदिर

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास (फाइल फोटो)

खास बातें

  1. दो सौ करोड़ रुपये से छिन्नमस्तिका मंदिर का विकास करने की बात कही.
  2. यह परिसर प्रसिद्ध वैष्णो मंदिर की तर्ज पर विकसित किया जाएगा.
  3. उन्होंने दुकानदारों से क्षेत्र को विकसित करने में सहयोग देने की अपील की.
रामगढ:

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास ने राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए दो सौ करोड़ रुपये से छिन्नमस्तिका मंदिर का विकास करने की बात कही. उन्होंने कहा राज्य में पर्यटन की अपार संभावनाएं है. इस मंदिर को पावन तीर्थ स्थल वैष्णो देवी के तर्ज पर विकसित किया जाएगा. उन्होंने कहा कि पर्यटकों के आगमन से न सिर्फ राजस्व में वृद्धि होगी बल्कि इससे क्षेत्र के युवाओं को रोजगार भी मिलेगा. उन्होंने कहा कि पर्यटन के दृष्टिकोण से झारखंड जल्द ही विश्व मानचित्र पर नजर आएगा.

दास ने कहा कि सरकार ने राज्य के पर्यटन संभावना वाले क्षेत्रों को विकसित करना प्रारंभ कर दिया है. इसी कड़ी में 200 करोड़ रुपये की लागत से माँ छिन्नमस्तिका मंदिर परिसर को विकसित करने की योजना है. यह परिसर प्रसिद्ध वैष्णो मंदिर की तर्ज पर विकसित किया जाएगा.

यह भी पढ़ें : सब्सिडी का पैसा सीधे खाते में देने से गरीबों के हक के 225 करोड़ रुपये बिचैलियों के पास जाने से बचे : रघुबर दास


यहां विश्व स्तरीय सुविधाऐं मुहैया कराई जाएगी ताकि विश्वभर के पर्यटक आकर्षित हो. मंदिर के सौंदर्यकरण की योजनाओं के पूर्ण होने पर पूरे क्षेत्र का परिदृश्य बदल जाएगा. दास मां छिन्नमस्तिका मंदिर परिसर स्थित गेस्ट हाउस में आयोजित मां छिन्नमस्तिका मंदिर परिसर के विकास से संबंधित उच्च स्तरीय बैठक के बाद मीडिया को संबोधित कर रहे थे.

मुख्यमंत्री ने कहा कि मंदिर क्षेत्र को विकसित करने से पूर्व यहां स्थित दुकानदारों को व्यवस्थित किया जायेगा. यहाँ 500 से 600 दुकानों तथा बस स्टैण्ड का निर्माण किया जाएगा. उन्होंने दुकानदारों से क्षेत्र को विकसित करने में सहयोग देने की अपील की. उन्होंने कहा कि वर्ष 2022 तक नए झारखण्ड का निर्माण करना है तभी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के ‘न्यू इण्डिया’ का सपना पूर्ण हो पाएगा. सरकार ने ‘न्यू झारखण्ड’ के निर्माण को लेकर कृषि, उद्योग आदि सेक्टरों के साथ पर्यटन को भी प्रमुखता दी है.

टिप्पणियां

VIDEO : झारखंड के मुख्यमंत्री के पांव धोती नज़र आईं महिलाएं, वीडियो हुआ वायरल​

दास ने कहा कि ईटखोरी स्थित तीन धर्मों का संगम स्थल, बोकारो के ललपनिया स्थित लुगूबुरू पहाड, गुमला का आंजन धाम, जैन तीर्थ पारसनाथ को धार्मिक तथा सांस्कृतिक पर्यटन के रूप में विकसित किया जा रहा है. यहाँ पर्यटन सुविधा के विकास से रोजगार के कई अवसर विकसित होंगे. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार प्रति दिन नए-नए आयाम गढ़ रही है. राज्य के समेकित विकास के सभी पहलूओं पर सरकार काम कर रही है.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... IND vs NZ: दीप्ती शर्मा ने मारा ऐसा बोल्ड, गुस्से में जमीन पर बैट मारने लगी बल्लेबाज, देखें Video

Advertisement