Coronavirus lockdown: श्रमिकों को वापस लाया जाएगा, उनके लिए रोजगार की व्यवस्था होगी : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन

मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कोरोना वायरस संक्रमण के संदर्भ में कोल्हान एवं पलामू प्रमंडल के सांसदों और विधायकों के साथ आज एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत के दौरान यह बात कही.

Coronavirus lockdown: श्रमिकों को वापस लाया जाएगा, उनके लिए रोजगार की व्यवस्था होगी : मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन (फाइल फोटो)

खास बातें

  • राज्य के श्रमिकों को देश के सभी हिस्सों से हर कीमत पर वापस लाया जायेगा
  • उनके लिए रोजगार की भी व्यवस्था की जाएगी.
  • सके लिए कार्य योजना तैयार की जा रही है.
रांची:

झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बृहस्पतिवार को कहा कि राज्य के श्रमिकों को देश के सभी हिस्सों से हर कीमत पर वापस लाया जायेगा और उनके लिए रोजगार की भी व्यवस्था की जाएगी. मुख्यमंत्री हेमन्त सोरेन ने कोरोना वायरस संक्रमण के संदर्भ में कोल्हान एवं पलामू प्रमंडल के सांसदों और विधायकों के साथ आज एक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बातचीत के दौरान यह बात कही. मुख्यमंत्री ने कहा, ‘जो श्रमिक देश के विभिन्न हिस्सों से आ रहे हैं उनके स्वास्थ्य का पूरा ध्यान रखा जाएगा.' उन्होंने कहा कि विभिन्न राज्यों से आ रहे श्रमिकों के लिए राज्य सरकार रोजगार की व्यवस्था का भी प्रयास करेगी. इसके लिए कार्य योजना तैयार की जा रही है.

उन्होंने कहा, ‘सरकार मनरेगा पर नये दिशानिर्देश लाने की तैयारी में है ताकि अधिक रोजगार का सृजन हो सके. इससे श्रमिकों को उनके गांव में ही रोजगार मिलेगा.' मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रवासी श्रमिकों को वापस लाने के लिए नोडल पदाधिकारियों को नियुक्त किया गया है. ‘कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए पूरी सतर्कता बरती जाएगी.' उन्होने राज्य में कोरोना वायरस महामारी के खिलाफ जंग लड़ रहे चिकित्सकों, स्वास्थ्यकर्मियों, पुलिसकर्मियों, पंचायतीराज व्यवस्था के प्रतिनिधियों, सामाजिक संगठनों की सराहना भी की.

COVID-19: झारखंड में सिर्फ राजधानी रांची रेड जोन में, 14 जिले ग्रीन जोन में

वहीं राज्य में स्वास्थ्य विभाग के प्रमुख सचिव नितिन मदन कुलकर्णी ने गुरुवार को बताया कि केंद्र द्वारा जारी सूची में प्रदेश में सिर्फ राजधानी रांची को रेड जोन में रखा गया है जबकि नौ अन्य जिलों को ऑरेंज जोन में व शेष चौदह जिलों को ग्रीन जोन में रखा गया है. कुलकर्णी ने एक संवाददाता सम्मेलन में यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि राजधानी रांची में प्रदेश के 110 में से सर्वाधिक 80 मामले सामने आए हैं जिसके चलते केन्द्र सरकार ने रांची को रेड जोन घोषित किया है, जबकि अपेक्षाकृत कम मामलों वाले नौ अन्य जिलों को ऑरेंज जोन घोषित किया है एवं जिन 14 जिलों में एक भी मामले नहीं आए हैं उन्हें ग्रीन जोन में रखा गया है. 



(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com