निर्भया कांड की याद फिर ताजा, रांची में इंजीनियरिंग छात्रा की कथित रेप के बाद जलाकर निर्मम हत्या

निर्भया कांड की याद फिर ताजा, रांची में इंजीनियरिंग छात्रा की कथित रेप के बाद जलाकर निर्मम हत्या

प्रतीकात्मक चित्र

खास बातें

  • रांची के बूटी मोड़ इलाके में एक मकान में रह रही थी छात्रा
  • कमरे में बाहर से बंद ताले को तोड़कर छात्रा को बाहर निकाला गया
  • छात्रा का शरीर नग्नावस्था में था, गले में धातु की तार लिपटी हुई थी
रांची:

निर्भया कांड की चौथी बरसी के दिन झारखंड की राजधानी रांची के बूटी मोड़ इलाके में एक इंजीनियरिंग कॉलेज की 19-वर्षीया छात्रा की शुक्रवार को कथित रूप से बलात्कार के बाद गला घोंटने के बाद जलाकर निर्मम हत्या कर दी गई.

रांची के पुलिस प्रवक्ता पुलिस उपाधीक्षक विकासचंद्र श्रीवास्तव ने बताया कि शहर के बूटी मोड़ इलाके में एक मकान में रहकर समीप के रामटहल चौधरी इंजीनियरिंग कालेज में पढ़ रही 19-वर्षीय छात्रा को अधजली अवस्था में सुबह उसके कमरे से बरामद किया गया. उसे तत्काल राजेंद्र आयुर्विज्ञान संस्थान ले जाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया.

उन्होंने बताया कि प्रथम दृष्ट्या छात्रा को बलात्कार अथवा बलात्कार की कोशिश के बाद जलाकर मारा गया है, जिसके आधार पर तथा छात्रा के पिता के बायान पर अज्ञात हमलावरों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 376, 511 और 302 के तहत मामला दर्ज कर दोषियों की तलाश की जा रही है.

(पढ़ें : निर्भया मामले को 4 साल पूरे, कुछ नहीं बदला, 20 साल की लड़की से लिफ्ट देने के बहाने रेप)

उन्होंने बताया कि छात्रा का शरीर नग्नावस्था में था और उसके गले में धातु की तार लिपटी हुई थी और सिर तथा शरीर के ऊपर का हिस्सा बुरी तरह जला हुआ था.

जब पुलिस कमरे में पहुंची तो छात्रा का शरीर जल रहा था और उसके कमरे से धुआं निकल रहा था. उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों की सूचना पर पुलिस पहुंची और कमरे में बाहर से बंद ताले को तोड़कर छात्रा को बाहर निकाला गया और अस्पताल पहुंचाया गया.

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि अब तक की जांच में पता चला है कि छात्रा की हत्या तड़के 3 बजे से 6 बजे के बीच की गई. इस बीच, छात्रा के पिता ने बताया कि उनकी बिटिया गुरुवार शाम ही बड़काकाना से रांची लौटी थी और वह गुरुवार को बूटी मोड़ के मकान में अकेली थी.

उन्होंने कहा कि उनकी बेटी की नृशंस तरीके से बलात्कार के बाद धातु के तार से गला घोंटकर हत्या की गई और फिर सबूत मिटाने के लिए उसे अपराधियों ने जला दिया. शुक्रवार को इस घटना के विरोध में आरटीसी कॉलेज के छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया और जुलूस निकाल कर नारे भी लगाए। इस बीच, पुलिस ने बताया कि उसने दोषियों के खिलाफ कई सबूत जुटा हैं और इस मामले में शीघ्र गिरफ्तारी की जाएगी.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com