Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com
NDTV Khabar

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास अचानक पहुंचे गांव...

मुख्‍यमंत्री ने कहा, 'नशा मुक्त गांव बनने पर आरा और केरम को एक लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. झारखंड से गरीबी को नेस्तनाबूत करने के लक्ष्य के साथ हमारी सरकार काम कर रही है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास अचानक पहुंचे गांव...
रांची:

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास अचानक ओरमांझी क्षेत्र में टुंडाहुली पंचायत के तहत आनेवाले आरा गांव पहुंचे. उन्होंने वहां ग्रामीणों के साथ समय बिताया, उनके अनुभव सुने और सुझाव लिये. उन्होंने कहा कि 'नशा मुक्त गांव बनने पर आरा और केरम को एक लाख रुपये की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी. झारखंड से गरीबी को नेस्तनाबूत करने के लक्ष्य के साथ हमारी सरकार काम कर रही है. रोजगार से जोड़ कर हर साल योजनाबद्ध तरीके से बीपीएल परिवार को गरीबी रेखा से बाहर किया जायेगा. गांव को बीपीएल कार्ड मुक्त किया जायेगा. आरा और केरम गांव में भी 15-20 बीपीएल परिवार हैं, जिन्हें जोहार योजना के तहत रोजगार से जोड़ा जायेगा. इससे ये परिवार भी बीपीएल श्रेणी से मुक्त हो जायेंगे.'

मुख्यमंत्री ने कहा कि 'नशा मुक्त होने के साथ ही गांव के लोगों की सोच और आचरण बदल गये हैं. यह बड़ी सफलता है. खुले में शौच नहीं करने से गांव में बीमारियों का खतरा कम हो गया है. हम चाहते हैं कि गांव की जनता जागरूक हो जाये. ऐसे गांव को सरकार विकास योजनाओं का पैसा सीधे दे देगी. गांव के लोग जरूरत के मुताबिक इसका उपयोग कर सकेंगे. हम हर हाथ को काम हर खेत को पानी देने के लक्ष्य के साथ काम कर रहे हैं.'


टिप्पणियां

उन्होंने कहा कि गरीबी समाप्त करने का सबसे बड़ा माध्यम शिक्षा है. सभी अपने बच्चों को पढ़ाएं. शिक्षित होने पर लोगों को बहकाया नहीं जा सकता है. लोग अपने अधिकारों और विकास के बारे में जागरूक हो जाएंगे.'

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... अक्षय कुमार ने कोरोनावायरस से जंग के लिए दान की सबसे बड़ी रकम, ट्वीट कर दी जानकारी

Advertisement