NDTV Khabar

आयुष्मान भारत विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना : रघुबर दास 

मुख्यमंत्री रघुबर दास ने झारखंड मंत्रालय में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना आयुष्मान भारत की सलाहकार समिति की बैठक के दौरान यह बात कही.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
आयुष्मान भारत विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना : रघुबर दास 

रघुबर दास ने की केंद्रीय सरकार की योजना की तारीफ

रांची:

झारखंड के मुख्यमंत्री रघुबर दास ने बुधवार को कहा कि आयुष्मान भारत विश्व की सबसे बड़ी स्वास्थ्य बीमा योजना है और झारखंड में इसमें उल्लेखनीय काम हुआ है. मुख्यमंत्री रघुबर दास ने झारखंड मंत्रालय में प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना आयुष्मान भारत की सलाहकार समिति की बैठक के दौरान यह बात कही. दास ने कहा कि निजी अस्पतालों की इस योजना के क्रियान्वयन में भूमिका महत्वपूर्ण है.अस्पतालों की जो समस्या है, सरकार उनके निराकरण के लिए प्रतिबद्ध है. मुख्यमंत्री ने कहा कि अस्पताल के खर्च के लिए पैसे जरूरी है, लेकिन किसी गरीब की आह नहीं लेनी चाहिए.

झारखंड के हर किसान के खाते में 5000 रुपये देगी रघुबर दास सरकार

इसी प्रकार आयुष्मान भारत के तहत मरीज के मामले में गलत बिलिंग नहीं होनी चाहिए. मरीज को क्वालिटी इलाज मिले, यहीहमारा लक्ष्य है. निजी अस्पतालों की तरह ही सरकारी अस्पतालों ने भी अनुशासन रहे, इस दिशा में काम किया जा रहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में अस्पताल का जाल बिछाना चाहती है. इसे बढ़ावा देने के लिए सरकार 25 प्रतिशत तक की दर पर जमीन उपलब्ध करायेगी. पीपीपी मोड पर भी अस्पताल खोलने वालों का स्वागत करेगी.


राफेल सौदे की जांच पर कोर्ट का फैसला आते ही यह बोले बीजेपी के नेता..

बैठक में स्वास्थ्य विभाग के प्रधान सचिव नीतिन मदन कुलकर्णी ने बताया कि गोल्डन कार्ड जारी करने के मामले में झारखंड पूरे देश में अव्वल है. यहां अब तक 19.5 लाख गोल्डन कार्ड जारी किये जा चुके हैं. 218 सरकारी और 371 निजी अस्पतालों के साथ अब तक 589 अस्पताल इस योजना में शामिल हो चुके हैं. अब तक 40534 क्लेम जेनरेट हुए हैं, जिसमें 38 करोड़ रुपये से ज्यादा की राशि खर्च हुई है. (इनपुट भाषा से) 

VIDEO: झारखंड के मुख्यमंत्री ने कहा गलत करने वालों को नहीं छोड़ेंगे. 

टिप्पणियां

 



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement