NDTV Khabar

झारखंड में मदर टेरेसा के चैरिटी होम पर लगा नवजातों को बेचने का आरोप

चाइल्ड वेलफेयर कमेटी (CWC) की जांच में इस तथ्य का खुलासा हुआ है कि एक बच्चे के एवज में 1.20 लाख रुपये तक लिये गये.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
झारखंड में मदर टेरेसा के चैरिटी होम पर लगा नवजातों को बेचने का आरोप

प्रतीकात्‍मक तस्‍वीर

रांची:
टिप्पणियां
रांची में मदर टेरेसा की संस्था मिशनरीज ऑफ चैरिटी की पर नवजात की बिक्री का आरोप लगा है. इस मामले में मिशनरीज ऑफ चैरिटी होम की कर्मचारी अनिमा को कोतवाली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. दो और सिस्टर को गिरफ्तार किया गया है. आरोप है कि चैरिटी होम की महिला संचालक के साथ मिलकर अनिमा आधा दर्जन नवजात को बेच चुकी है. चाइल्ड वेलफेयर कमेटी (CWC) की जांच में इस तथ्य का खुलासा हुआ है कि एक बच्चे के एवज में 1.20 लाख रुपये तक लिये गये. बाल कल्याण समिति ने नवजात को इस समिति से बरामद कर लिया है. फिलहाल इन बच्चों को एक अन्य संस्था में रखा गया है.

थाना इंचार्ज एसएन मंडल ने बताया कि कुछ और बच्चों के भी अवैध तरीके से बेचे जाने की बात सामने आयी है. उन बच्चों की मां के नाम पुलिस को मिले हैं. इसकी जांच की जा रही है. राजधानी रांची के इस्ट जेल रोड स्थित मिशनरीज ऑफ चैरिटी होम में अवैध रूप से नवजातों की बिक्री का खुलासा CWC की अध्यक्ष रूपा कुमारी ने बुधवार को समाहरणालय स्थित कार्यालय में किया.
 
उन्होंने बताया कि होम की कर्मचारी अनिमा इंदवार को कोतवाली पुलिस ने मंगलवार को गिरफ्तार कर लिया. उसने खुद स्वीकार किया कि अब तक आधा दर्जन नवजात को चैरिटी होम की संचालिका सिस्टर कोनसीलिया के साथ मिलकर बेच चुकी है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement