NDTV Khabar

रामगढ़ कोर्ट ने कोयला चोरी के मामले में झामुमो विधायक योगेंद्र महतो को सुनाई तीन साल की सजा

झारखंड में रामगढ़ की अदालत ने विधायक योगेंद्र महतो को तीन साल की सजा सुनाई है.

45 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
रामगढ़ कोर्ट ने कोयला चोरी के मामले में झामुमो विधायक योगेंद्र महतो को सुनाई तीन साल की सजा

प्रतीकात्मक तस्वीर

रांची: झारखंड  में रामगढ़ की अदालत ने विधायक योगेंद्र महतो को तीन साल की सजा सुनाई है. योगेंद्र महतो को रामगढ़ के व्यवहार न्यायालय की एसडीजीएम आरती माला ने कोयला चोरी के एक मामले में सजा सुनाई है. बता दें कि योगेंद्र महतो गोमिया से झामुमो के विधायक हैं. सजा सुनाए जाने के बाद अब श्री महतो की विधानसभा की सदस्यता खत्म हो जायेगी. गौरतलब है कि दो या दो साल से अधिक की सजा होने पर लोकसभा व विधानसभा की सदस्यता खत्म कर दी जाती है. साथ ही जिन राजनेताओं को अदालत दो साल या इससे अधिक की सजा देती है, वह अगले 10 साल तक चुनाव भी नहीं लड़ सकते.

यह भी पढ़ें - झामुमो ने प्रधानमंत्री को पत्र लिखा, कहा कि हरियाणा जैसी घटना की पुनरावृत्ति न हो

वर्ष 2010 में हुआ था कोयला चोरी का केस
जानकारी के मुताबिक योगेंद्र महतो मूल रूप से रामगढ़ के रहने वाले हैं. रजरप्पा थाना क्षेत्र में उनकी दो हार्डकोक भट्ठा- शुभम और शिवम हार्ड कोक भट्टा पर केस दर्ज था. साल 2010 में अवैध कोयला की बरामदगी के बाद पुलिस ने रजरप्पा थाना में उनके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज की थी. मामले में पुलिस ने योगेंद्र महतो के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया था. जिसके बाद कोर्ट में ट्रायल चल रहा था. जिसमें आज यानी 31 जनवरी को अदालत ने उन्हें तीन साल की सजा सुनाई. विधायक के अलावा उनके छोटे भाई चित्रगुप्त महतो और पांच अन्य लोगों को भी सजा सुनाई गई है.

यह भी पढ़ें - ‘चुंबन प्रतियोगिता’ : शिबू सोरेन ने विधायक को कारण बताओ नोटिस जारी किया

रजरप्पा थाना क्षेत्र में कांड संख्या 53 /10 में धारा 414 120 बी 467 468 471 के तहत मामला दर्ज किया गया था. अनुमंडलीय न्यायिक दंडाधिकारी आरती माला के कोर्ट में सजा सुनाई गई है. 3 साल की सजा के साथ-साथ 5000 रुपये का जुर्माना भी लगाया गया है. जुर्माना नहीं देने पर 3 महीना का सजा बढ़ा दी जाएगी. रजरप्पा थाना के तत्कालीन थाना प्रभारी चंद्रिका प्रसाद के द्वारा मामला दर्ज किया गया था. सजा सुनाने के बाद विधायक को तुरंत पुलिस हिरासत में ले लिया गया. बाद में उसी कोर्ट में जमानत की अर्जी दाखिल की गई और विधायक सहित सभी को जमानत मिल गई. 

VIDEO: 14 महीनों के हमारे काम पर वोट देगी जनता : हेमंत सोरेन


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement