NDTV Khabar

रांची में 5 जुलाई को आखिर बस में सवार लोगों को जिंदा जलाने की क्यों हुई थी कोशिश, जानें पूरा मामला

इन दिनों हर कोई इस बात के तह में जाना चाहता है कि पिछले शुक्रवार को रांची की सड़कों पर आखिर क्या हुआ था? दरअसल, उस दिन प्राचीन शहर में दोपहर से रात तक तीन अलग-अलग घटनाएं हुईं थी और तीनों 1 दूसरे से जुड़ी हुई थी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
रांची में 5 जुलाई को आखिर बस में सवार लोगों को जिंदा जलाने की क्यों हुई थी कोशिश, जानें पूरा मामला

रांची के एकरा मस्जिद के पास चाकूबाजी में घायल व्यक्ति का इलाज रांची के मेडिका हॉस्पिटल में चल रहा है.

रांची:

इन दिनों हर कोई इस बात के तह में जाना चाहता है कि पिछले शुक्रवार को रांची की सड़कों पर आखिर क्या हुआ था? दरअसल, उस दिन प्राचीन शहर में दोपहर से रात तक तीन अलग-अलग घटनाएं हुईं थी और तीनों 1 दूसरे से जुड़ी हुई थी. फिलहाल इस घटना से संबंधित एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है और कहां जा रहा है कि बस में सवार लोगों को जिंदा जलाने की कोशिश की गई. बता दें कि रांची में पांच जुलाई को मुस्लिम धर्मावलंबियों ने नमाज अदा करने के बाद हज़ारों की संख्या में रांची के उर्स मैदान में सरायकेला में तबरेज अंसारी के हत्याकांड को लेकर आक्रोश सभा किया था. सभा में तबरेज की हत्या के आरोपियों को फांसी देने की मांग की गई थी. इस आक्रोश सभा में मुस्लिम समुदाय के बच्चे, बूढ़े जवान सब शामिल थे.


देखें VIDEO

झारखंड लिंचिंग: तबरेज अंसारी की पीट पीटकर हत्या के बाद महिलाओं को मिली रेप की धमकी, जानें क्या है मामला

सभा के बाद लौट रहे मुस्लिम समुदाय के लोगों ने शहर में जमकर उत्पात मचाया था. मॉब लिंचिंग का विरोध करने निकली भीड़ देर रात तक हंगामा करती रही. हंगामा इस कदर बरपा था की राजधानी की प्रमुख सड़कें अराजक तत्वों के कब्जे में रही. कुछ इस दौरान पत्थरबाजी की गई और कई गाड़ियों को नुकसान पहुंचाया गया. इसी हंगामे में CIT इंजीनियरिंग कॉलेज की बस इस भीड़ में फंस गई, जिसमे भी तोड़-फोड़ और आग लगाने की कोशिश की गई थी. इस बस में 50 छात्र अंतिम सेमेस्टर की परीक्षा देकर डोरंडा कॉलेज से टाटीसिलवे स्थित इंजीनियरिंग कॉलेज लौट रहे थे. गनीमत रही की कुछ वृद्ध और प्रबुद्धजनों के प्रयास से बड़ी और अप्रिय घटना होते-होते रह गई.

झारखंड मॉब लिंचिंग: तबरेज अंसारी के परिजनों का दावा- मारपीट के बाद उसे पिलाया गया था 'जहर'

इस घटना के बाद रांची के एयरपोर्ट रोड पर कुछ हिन्दू संगठन के लोगों ने एक मुस्लिम लड़के की पकड़कर पिटाई कर दी. यही नहीं देर रात भीड़ द्वारा रांची के एकरा मस्जिद के पास चाकूबाजी भी की गई, जिसमे एक व्यक्ति गम्भीर रूप से घायल हो गया. उसका इलाज रांची के मेडिका हॉस्पिटल में चल रहा है. काफी मशक्कत के बाद पुलिस द्वारा भीड़ पर काबू पाया गया. 

बंगाल में 'जय श्रीराम' नहीं बोलने पर मदरसा शिक्षक को पीटने के बाद चलती ट्रेन से दिया धक्का 

टिप्पणियां

आपको बता दें की सरायकेला मॉब लिंचिंग के विरोध में जुम्मे की नमाज के बाद एक आक्रोश सभा का आयोजन उर्स मैदान डोरंडा में किया गया था, जिसमें सैकड़ों की संख्या में एक धर्म विशेष के लोग शामिल हुए थे. पुलिस ने शांति भंग करने, तोड़फोड़ और सरकारी काम में बाधा पहुचाने के आरोप में लोअर बाजार थाना में एफआईआर दर्ज किया गया, जिसमें 33 लोगों को नामजद और 300 अज्ञात लोगों को आरोपी बनाया गया. पुलिस सभी आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है.

VIDEO:  झारखंड लिंचिंग - कहां गए सुप्रीम कोर्ट के लिंचिंग पर दिशानिर्देश?



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement