NDTV Khabar

बिहार: इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में होगी 383 पदों पर भर्तियां, सरकार ने दी स्वीकृति

बिहार राज्य मंत्रिपरिषद ने पटना स्थित इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान (IGIC) के लिए मंगलवार को 383 नए पदों को स्वीकृति प्रदान की.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार: इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान में होगी 383 पदों पर भर्तियां, सरकार ने दी स्वीकृति

इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान (IGIC)

नई दिल्ली:

बिहार राज्य मंत्रिपरिषद ने पटना स्थित इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान (IGIC) के लिए मंगलवार को 383 नए पदों को स्वीकृति प्रदान की. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की अध्यक्षता में मंगलवार को संपन्न मंत्रिपरिषद की बैठक के बाद मंत्रिमंडल सचिवालय विभाग के प्रधान सचिव दीपक प्रसाद ने बताया कि इंदिरा गांधी हृदय रोग संस्थान, के कुल 07 अनुपयोगी पदों को प्रत्यर्पित करते हुए विभिन्न स्तर के चिकित्सीय, प्रशासनिक, तकनीकी एवं गैर-तकनीकी स्तर के कुल 383 (तीन सौ तेरासी) नये पदों के सृजन को मंत्रिपरिषद ने स्वीकृति प्रदान कर दी है. उन्होंने बताया कि मंत्रिपरिषद ने पटना स्थित इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान के कार्डियोलॉजी तथा कार्डिएक कैथ लैब एवं कार्डियोथोरैसिक सर्जरी विभाग के लिए परफ्यूजनिस्ट के कुल 6 पदों के सृजन की भी मंजूरी दी है.

प्रसाद ने बताया कि मंत्रिपरिषद ने मधुबनी जिलान्तर्गत झंझारपुर प्रखंड स्थित नवनिर्मित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र, अररिया संग्राम को एल-3 स्तरीय ट्रामा सेन्टर के रूप में विकसित करते हुए विभिन्न कोटि के कुल 73 पदों के सृजन की स्वीकृति तथा नवादा के खनवां स्थित नवनिर्मित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र को क्रियाशील करने के लिए आवश्यक विभिन्न कोटि के कुल 61 पदों के सृजन की भी स्वीकृति दे दी है.

उन्होंने बताया कि मंत्रिपरिषद द्वारा भवन निर्माण विभाग के अन्तर्गत पटना उद्यान प्रमंडल के कार्यों के सम्यक एवं सुचारू संचालन के लिए परिचारी (माली) के कुल 1,000 (एक हजार) पदों का सृजन की स्वीकृति दी गई.
दीपक ने बताया कि मंत्रिपरिषद की बैठक में कुल 10 एजेंडों पर निर्णय लिया गया.


अन्य खबरें
यूपी सरकार का बड़ा फैसला, राजकीय मेडिकल कॉलेजों में 542 पदों पर होगी भर्तियां, संविदा शिक्षकों का बढ़ेगा वेतन
RBI Grade B Result 2019: ग्रेड बी ऑफिसर भर्ती परीक्षा का रिजल्ट जारी, यहां करें चेक

टिप्पणियां



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement