डीएलटी लैब्स इस साल 600 लोगों को नौकरी देगी, लखनऊ में उत्कृष्टता केन्द्र स्थापित करेगी

डीलटी लैब्स कंपनी ने कहा है कि वह अब्दुल कलाम टैक्निकल यूनिवर्सिटी के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर करेगी

डीएलटी लैब्स इस साल 600 लोगों को नौकरी देगी, लखनऊ में उत्कृष्टता केन्द्र स्थापित करेगी

प्रतीकात्मक फोटो.

नई दिल्ली:

एंटरप्राइज ब्लॉकचेन समाधान उपलब्ध कराने वाली डीलटी लैब्स ने रविवार को कहा कि उसकी इस साल 600 लोगों की नियुक्ति की योजना है और वह उत्तर प्रदेश में डा ए पी जे अब्दुल कलाम टैक्निकल यूनिवर्सिटी (एकेटीयू) में एक विशिष्ट केन्द्र स्थापित करेगी. कंपनी के जारी एक वक्तव्य में कहा गया है वह अब्दुल कलाम टैक्निकल यूनिवर्सिटी के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर करेगी. इस यूनिवर्सिटी को पहले उत्तर प्रदेश टैक्निकल यूनिवर्सिटी के नाम से जाना जाता था. समझौते के तहत एकेटीयू के छात्रों के ज्ञान को बढ़ाया जायेगा.

वक्तव्य में कहा गया है, ‘‘एमओयू के तहत विश्वविद्यालय भौतिक अवसंरचना सुविधायें उपलब्ध करायेगी और डीएलटी लेब्स उसके लिये एंटरप्राइज ब्लॉकचेन विशेषज्ञता और क्लाउड ढांचागत सुविधा लायेगी.'' डीएलटी लैब्स ने सीओई के लिये एक करोड़ रुपये तक खर्च करने की प्रतिबद्धता भी जताई हे.

Newsbeep

डीएलटी लैब्स के संस्थापक और मुख्य प्रौद्योगिकी अधिकारी नीरज श्रीवास्तव ने कहा, ‘‘हमें आने वाले सालों में मजबूत वृद्धि नजर आ रही है, हम राज्य में अपनी उपस्थिति को और बढ़ायेंगे, इसके तहत हम इस साल 600 लोगों को नियुक्त करेंगे.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


श्रीवास्तव ने अपनी इंजीनियरिंग की पढ़ाई एकेजी इंजीनियरिंग कालेज, गाजियाबाद (एकेटीयू) से की है और 2017 में उन्होंने डीएलटी लैब्स की स्थापना की. उनके भागीदार अजय सिंह और उमेश सिंह कुशवाहा ने भी इसमें योगदान दिया. डीएलटी लैब्स के भारत, कनाडा, जापान, सिंगापुर और अमेरिका में 400 लोग काम कर रहे हैं.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)