सेना में 2021 तक शुरू होगा महिला सैनिकों का पहला बैच, प्रशिक्षण इसी साल दिसंबर में

सेना में महिला सैनिकों का पहला बैच मार्च 2021 तक शुरू होने की संभावना है.

सेना में 2021 तक शुरू होगा महिला सैनिकों का पहला बैच, प्रशिक्षण इसी साल दिसंबर में

100 महिलाओं वाले इस बैच का प्रशिक्षण इसी साल दिसंबर में शुरू हो जाएगा.

नई दिल्ली:

सेना में महिला सैनिकों का पहला बैच मार्च 2021 तक शुरू होने की संभावना है. सेना के सूत्रों ने बुधवार को कहा कि 100 महिलाओं वाले इस बैच का प्रशिक्षण इसी साल दिसंबर में शुरू हो जाएगा. महिला सैनिकों को भारतीय सेना के कॉर्प्स ऑफ मिल्रिटी पुलिस में कमीशन दिया जाएगा. सेना के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा, "प्रशिक्षण अवधि पुरुष सैनिकों के समान ही 61 सप्ताह की होगी. सैनिकों को प्रत्येक वर्ष समान संख्या में प्रशिक्षित कर कमीशन दिया जाएगा."

अधिकारियों का कहना है कि सैन्य पुलिस में महिला सैनिकों का कैडर 1700 कोर की निश्चित संख्या में रखा जाएगा. कॉर्प्स ऑफ मिल्रिटी पुलिस के कर्नल कमांडेंट लेफ्टिनेंट जनरल अश्विनी कुमार ने पिछले सप्ताह प्रशिक्षण प्रशिक्षक के पद के लिए लेफ्टिनेंट कर्नल नंदनी का साक्षात्कार लिया था.

कॉर्प्स ऑफ मिल्रिटी पुलिस में महिला सिपाही पुलिस छावनी और अन्य सेना प्रतिष्ठानों में ड्यूटी संभालेंगी. वे युद्ध के कैदियों को संभालने और नियमों के रखरखाव के अलावा विभिन्न राज्य सरकारों की सिविल पुलिस के साथ-साथ केंद्र में भी काम करेंगी. इसके अलावा वे अपराध के मामलों की भी जांच करेंगी.

फिलहाल सेना में महिलाएं केवल इंजीनियरिंग, मेडिकल, कानूनी, सिग्नल और शैक्षिक विंग में ही काम करती हैं. सेना में महिला सैनिकों को शामिल करने के पीछे का उद्देश्य विभिन्न सेवाओं में उनका प्रतिनिधित्व बढ़ाना है.

अन्य खबरें
UP Police: यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया ऐलान, यूपी पुलिस में होगी 50,000 से अधिक भर्तियां
Sarkari Naukri: इंडियन ऑयल में 176 पदों पर होगी भर्ती, 10वीं पास कर सकते हैं आवेदन

Newsbeep

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com