Coronavirus से जंग में मदद के लिए सामने आई IP University, कर्मचारियों की एक दिन की सैलरी करेगी दान

Coronavirus: कोरोनावायरस से जंग में गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी ( IP University) पीएम केयर्स फंड में अपने कर्मचारियों की एक दिन की सैलरी से 11 लाख रुपये दान करेगी.

Coronavirus से जंग में मदद के लिए सामने आई IP University, कर्मचारियों की एक दिन की सैलरी करेगी दान

IP University पीएम केयर्स फंड में अपने कर्मचारियों की एक दिन की सैलरी दान करेगी.

नई दिल्ली:

Coronavirus: चीन और दूसरे देशों के बाद भारत भी कोरोनावायरस की चपेट में आ चुका है. देश में कोरोनावायरस के चलते हालात गंभीर बने हुए हैं. कोरोना संक्रमित लोगों का आंकड़ा तेजी से बढ़ रहा है. कोरोनावायरस के प्रकोप को कम करने के लिए सरकार कई कदम उठा रही है. भारत के तमाम एजुकेशनल इंस्टीट्यूट एक के बाद एक मदद के लिए सामने आ रहे है. सीबीएसई (CBSE) और इग्नू (IGNOU) के बाद अब गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी ( IP University) भी कोरोनावायरस से जंग में मदद के लिए सामने आई है. पीटीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, IP यूनिवर्सिटी ने अपने सभी कर्मचारियों की एक दिन की सैलरी मिलाकर 11 लाख रुपये की रकम जमा की है. IP यूनिवर्सिटी 11 लाख रुपये की ये रकम पीएम केयर्स फंड में जमा करेगी.

IP यूनिवर्सिटी की तरफ से सोमवार को एक स्टेटमेंट जारी करके बताया गया, "कोरोनावायरस की वजह से देश में  जो महामारी के हालात पनपे  हैं, ऐसे में गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी ( IP University) ने अपने सभी कर्मचारियों की मार्च की सैलरी में से एक दिन की सैलरी पीएस केयर्स फंड (PM-CARES Fund) में डोनेट करने का फैसला किया है. कोरोनावायरस से लड़ने में यूनिवर्सिटी सरकार को अपना योगदान देती है. इस बारे में सभी कर्मचारियों को सूचित किया जा चुका है."

IGNOU ने भी किया दान
इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी (IGNOU) के फैक्लटी मेंबर्स, स्टाफ समेत तमाम कर्मचारियों ने अपनी एक दिन की सैलरी कोरोनावायरस से जंग में सरकार को दान करने का फैसला किया है. IGNOU के वीसी प्रोफेसर नागेश्वर राव ने अपने एक बयान में बताया, "IGNOU फ्रेटरनिटी पूरी ईमानदारी से इस महामारी से लड़ने के लिए सरकार को अपना योगदान देती है. जनता के लिए काम करने वाली नेशनल यूनिवर्सिटी के तौर पर इस संकट की घड़ी में सरकार का समर्थन करना भी हमारा कर्तव्य है." बता दें कि कोरोनावायरस से जंग में IGNOU के रिटायर्ड कर्मचारी भी अपनी एक दिन की पेंशन दान में दे रहे हैं. 

CBSE ने भी की सरकार की मदद
IGNOU से पहले सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (CBSE) ने सभी टीचर्स की तरफ से 21 लाख रुपये पीएम केयर्स फंड में डोनेट करने का फैसला किया. ग्रुप ए के कर्मचारियों ने अपनी दो दिन की सैलरी डोनेट की है, जबकि ग्रुप बी और सी के एंप्लॉय ने अपनी एक दिन की सैलरी डोनेट की.

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com