Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए यूपी की यह यूनिवर्सिटी देगी फ्री कोचिंग, इन स्टूडेंट्स को मिलेगा लाभ

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए यूपी का दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय संस्कृत के स्टूडेंट्स को फ्री कोचिंग देगा.

UPSC सिविल सेवा परीक्षा के लिए यूपी की यह यूनिवर्सिटी देगी फ्री कोचिंग, इन स्टूडेंट्स को मिलेगा लाभ

सिविल सेवा परीक्षाओं के लिए फ्री कोचिंग का पहला बैच 50 स्टूडेंट्स के साथ शुरू किया जाएगा.

खास बातें

  • संस्कृत से सिविल सेवा परीक्षाओं की तैयारी के लिए फ्री कोचिंग दी जाएगी.
  • ये कोचिंग दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय देगा.
  • बैच में शामिल होने के लिए स्टूडेंट्स का टेस्ट होगा.
नई दिल्ली:

उत्तर प्रदेश में अब संस्कृत से सिविल सेवा परीक्षाओं (UPSC Civil Services) की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स को फ्री कोचिंग मुहैया की जाएगी. यूपी का दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय (DDU) प्रदेश का पहला ऐसा विश्वविद्यालय होगा, जो संस्कृत विषय से तैयारी करने वालों को मुफ्त कोचिंग देगा. विश्वविद्यालय के संस्कृत विभागाध्यक्ष प्रो. मुरली मनोहर पाठक ने NDTV से बातचीत में कहा, ''संस्कृत की लोकप्रियता कम हो गई, इसे बढ़ावा देने के लिए हमने संस्कृत के स्टूडेंट्स को सिविल सेवा की परीक्षा की फ्री कोचिंग देने का प्लान तैयार किया है. मैने यूपी संस्कृत परिषद को इसके लिए प्रस्ताव भेजा था जो कि स्वीकार हो चुका है. अब हम 50 स्टूडेंट्स का बैच शुरू करेंगे जिन्हें फ्री कोचिंग दी जाएगी.''

उन्होंने कहा, ''कोचिंग में शामिल होने के लिए स्टूडेंट्स से आवेदन मंगवाए जाएंगे. आवेदन की प्रक्रिया 10 दिन बाद शुरू कर दी जाएगी. स्टूडेंट्स को आवेदन फॉर्म यूनिवर्सिटी में जमा करना होगा. बैच में शामिल होने के लिए स्टूडेंट्स को टेस्ट और इंटरव्यू देना होगा.''

प्रो. मुरली मनोहर पाठक ने कहा, ''स्टूडेंट्स को 3 से 5 2 घंटे फ्री कोचिंग दी जाएगी. इस बीच में हम स्टूडेंट्स को आईएएस और पीसीएस का जितन भी सिलेबस है कवर कराएंगे. स्टूडेंट्स को यूनिवर्सिटी का स्टाफ पढ़ाएगा और जरूरत पड़ेगी तो हम बाहर से एक्सपर्ट्स को भी बुलाएंगे.

बता दें कि इस फ्री कोचिंग के लिए उत्तर प्रदेश के रहने वाले स्टूडेंट्स आवेदन कर सकेंगे. सिर्फ वही स्टूडेंट्स आवेदन कर सकेंगे जो सिविल सेवा की परीक्षा में संस्कृत विषय चुनेंगे. ये कोचिंग दीनदयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय के कैंपस में चलाई जाएगी.