NDTV Khabar

ठोस अपशिष्ट प्रबंधन : 2016 के दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शहरों में कोलकाता, पुरस्कार मिला

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ठोस अपशिष्ट प्रबंधन : 2016 के दुनिया के सर्वश्रेष्ठ शहरों में कोलकाता, पुरस्कार मिला

प्रतीकात्मक फोटो.

खास बातें

  1. जलवायु परिवर्तन से निपटने की दिशा में उल्लेखनीय कार्य किया
  2. भारतीय शहरों में कोलकाता, मुंबई, चेन्नई और नई दिल्ली ने हिस्सा लिया
  3. मैक्सिको सिटी में मेयरों के अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में मिला सम्मान
वाशिंगटन:

ठोस अपशिष्ट प्रबंधन के सिलसिले में प्रेरणादायी और अभिनव कार्यक्रम चलाने के लिए कोलकाता और दुनिया के दस अन्य शहरों को इस श्रेणी में वर्ष 2016 के सर्वश्रेष्ठ शहर का पुरस्कार दिया गया है.

लाखों की आबादी वाले शहरों के मेयरों के अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन के मौके पर जारी की गई प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि कोलकाता ठोस अपशिष्ट प्रबंधन सुधार परियोजना ने स्रोत पर ही कचरे को अलग करने और स्थानांतरण केन्द्रों पर अपशिष्ट पदार्थों के निपटारे की दिशा में 60-80 फीसदी का लक्ष्य प्राप्त किया. इस सम्मेलन में भारत के कोलकाता, मुंबई, चेन्नई और नई दिल्ली जैसे शहरों ने हिस्सा लिया.

विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘इससे आगे की बात यह है कि परियोजना का लक्ष्य खुले में कचरा फेंकने और अपशिष्ट पदार्थों को जलाने का उन्मूलन करना और लैंडफिल वाले स्थानों पर उत्सर्जित होने वाले मीथेन गैस की मात्रा में कमी लाना है.’’ यह प्रतिष्ठित सम्मान प्राप्त करने वाला कोलकाता एकमात्र भारतीय शहर है. मैक्सिको सिटी में आयोजित सी40 मेयर सम्मेलन में उसे यह पुरस्कार दिया गया.

टिप्पणियां

सी40 अध्यक्ष और रियो डि जिनेरियो के मेयर एडुआडरे पेस के हाथों पुरस्कार ग्रहण करने के बाद उत्तरपाड़ा नगरपालिका के अध्यक्ष दिलीप यादव ने मैक्सिको से फोन पर पीटीआई भाषा को बताया, ‘‘हमारे देश में, केवल कोलकाता महानगर को यह पुरस्कार मिला है.’’ उन्होंने कहा, ‘‘इससे हमें इस परियोजना को लेकर और सतत तरीके से काम करने की प्रेरणा मिलती है.’’ यह प्रतिष्ठित पुरस्कार प्राप्त करने वाले शहरों में अदीस अबाबा, कोपेनहेगन, कुर्तिबा, सिडनी और मेलबर्न, पेरिस, पोर्टलैंड, सोल, शेन्जेन और योकोहामा शामिल हैं.


(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement