NDTV Khabar

मां बनते ही 73 फीसदी महिलाएं छोड़ देती हैं जॉब: रिपोर्ट

इस स्‍टडी में कहा गया है कि भारत में सिर्फ 16 फीसदी महिलाएं ही अपने करियर में सीनियर लीडरशिप की भूमिका हासिल कर पाती हैं. रिपोर्ट में ऑफिसों महिला-पुरुष के बीच भेदभाव की बात भी सामने आई है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
मां बनते ही 73 फीसदी महिलाएं छोड़ देती हैं जॉब: रिपोर्ट

प्रेग्‍नेंसी भी नौकरी छोड़ने की एक बड़ी वजह है

खास बातें

  1. भारत में 50 फीसदी महिलाओं को नौकरी छोड़कर घर बैठना पड़ता है
  2. म‍हिलाएं बच्‍चों की देखभाल करने के लिए करियर से समझौता करती हैं
  3. एक नई स्‍टडी में कामकाजी महिलाओं को लेकर आंकड़े जारी किए गए हैं
नई द‍िल्‍ली : हमारे देश में 50 फीसदी कामकाजी महिलाओं को महज 30 साल की उम्र में अपने बच्चों की देखभाल करने के लिए नौकरी छोड़नी पड़ती है. यह आंकड़ा एक रिपोर्ट में सामने आया है. अशोका यूनिवर्सटी के जेनपैक्ट सेंटर फॉर वूमेंस लीडरशिप (GCWL) ने बुधवार को 'प्रिडिकामेंट ऑफ रिटर्निंग मदर्स' नाम से एक रिपोर्ट जारी की. इस रिपोर्ट मे बताया गया है कि मां बनने के बाद महज 27 फीसदी महिलाएं ही अपने करियर को आगे बढ़ा पाती हैं और वर्कफोर्स का हिस्सा बनी रहती हैं.यानी मां बनते ही 73 फीसदी महिलाएं जॉब करना छोड़ देती हैं.

पुरुषों के मुकाबले महिलाओं को म‍िलता है कम पैकेज

यह रिपोर्ट कामकाजी महिलाओं की चुनौति‍यों पर करवाई गई एक स्‍टडी के आधार पर तैयार की गई है. रिपोर्ट में बताया गया है कि भारत में सिर्फ 16 फीसदी महिलाएं ही अपने करियर में सीनियर लीडरशिप की भूमिका हासिल कर पाती हैं. रिपोर्ट में ऑफिसों महिला-पुरुष के बीच भेदभाव की बात भी सामने आई है.

ट्रैवलिंग, करियर और पैसा महिलाओं के सपनों की ल‍िस्‍ट में टॉप पर: सर्वे
 
women leaving office

रिपोर्ट जारी करने के मौके पर यूनिवर्सिटी की जेनपैक्ट सेंटर फॉर वूमेंस लीडरशिप की निदेशक हरप्रीत कौर ने कहा, 'भारतीय वर्कफोर्स का झुकाव पुरुषों के प्रति ज्यादा होता है और महिलाओं के साथ भेदभाव होता है. हालांकि वर्कफोर्स में महिलाओं के प्रवेश के द्वारा खुले रहते हैं मगर बाहर निकलने के भी रास्ते साथ ही जुड़े होते हैं. प्रेग्‍नेंसी, बच्चों का जन्म, बच्चों की देखभाल, वृद्धों की देखभाल, पारिवारिक समर्थन की कमी और ऑफिस का माहौल जैसी कई बातें हैं, जो महिलाओं को बाहर के रास्ते दिखाते हैं और बड़े रोल निभाने से रोकते हैं.

टिप्पणियां
रिपोर्ट में कॉरपोरेट, मीडिया और विकास क्षेत्र में काम करने वाली शहरी क्षेत्र की महिलाओं को शामिल किया गया था.  इस रिसर्च को 'जर्नल ऑफ न्यूट्रिशन' में पब्‍लिश किया गया है. इस स्‍टडी में पांच से 12 साल की उम्र के 3,200 बच्चों का परीक्षण किया था.

Video: क्‍या अपनी सेहत का ख्‍याल रख पाती हैं महिलाएं


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement