NDTV Khabar

महिलाओं को बस ड्राइवर बनने के लिए IAS अधिकारी ने किया प्रेरित, खुद चलाकर दिखाई वॉल्‍वो, देखें Video

महिला ड्राइवरों को प्ररित करने के लिए बीएमटीसी की प्रबंधक निदेशक सी शिखा ने एक वोल्वो चला कर दिखाई.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
महिलाओं को बस ड्राइवर बनने के लिए IAS अधिकारी ने किया प्रेरित, खुद चलाकर दिखाई वॉल्‍वो, देखें Video

बीएमटीसी की प्रबंधक निदेशक सी शिखा ने वोल्वो चला कर दिखाई.

खास बातें

  1. बीएमटीसी की प्रबंधक निदेशक सी शिखा ने एक वोल्वो चला कर दिखाई
  2. ऐसा महिला ड्राइवरों को प्ररित करने के लिए किया
  3. ड्राइविंग स्कूल के कैंपस में चलाई गाड़ी
बेंगलुरू:

हमारे देश में समय के साथ धीरे-धीरे महिलाओं के लिए हर क्षेत्र में नए अवसरों के दरवाजे खुल रहे हैं. चाहे विमान उड़ाना हो या सेना में भर्ती होना, महिलाएं उन सभी प्रोफेशन से जुड़ रही हैं जिसकी कल्पना करना भी एक वक्त में मुश्किल था. लेकिन अभी भी कुछ काम ऐसे हैं जिन्हें हम शायद ही किसी महिला को करते देखते हैं या देखते भी हैं तो वो भी महज एक अपवाद होता है. उन्हीं कामों में से ही एक काम बस ड्राइवर का भी है. दरअसल, बेंगलुरू मेट्रोपोलिटन ट्रांस्पोर्ट कोरपोरेशन में 14 हजार से भी ज्यादा ड्राइवर हैं लेकिन महिला ड्राइवर की संख्या सिर्फ एक है. इसी चलते महिला ड्राइवरों को प्ररित करने के लिए बीएमटीसी की प्रबंधक निदेशक सी शिखा ने एक वॉल्‍वो चला कर दिखाई.

देखें वीडियोः


टिप्पणियां

टाइम्स ऑफ इंडिया के मुताबिक यह पहला मौका है जब एक आईएएस ऑफिसर ने इस तरह का फैसला लिया है. इस खबर की सूचना जैसे ही सोशल मीडिया यूजर्स को मिली, सी शिखा की जमकर तारीफ की जाने लगी. हालांकि, एक ओर जहां लोग बीएमटीसी की निदेशक की तारीफ कर रहे हैं वहीं कई लोग सवाल कर रहे हैं कि क्या शिखा के पास ड्राइविंग लाइसेंस है?

इस बारे में निदेशक ने द न्यू इंडियन एक्सप्रेस को बताया कि वे एक ड्राइविंग स्कूल के कैंपस में गाड़ी चला रही थीं जहां लाइसेंस की जरूरत नहीं होती. इसके बाद कई लोग निदेशक शिखा के समर्थन में आगे आए.



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... जेल से निकलने के तुरंत बाद हार्दिक पटेल फिर हुए गिरफ्तार, जानें पूरा मामला

Advertisement