COVID-19: 17 साल के लड़के ने अपनी पॉकेट मनी से जरूरतमंदों लोगों को बांटी पीपीई किट और सैनिटाइजर

17 साल के हुसैन जाकिर ने कोरोनावायरस के कारण मेडिकल स्टाफ और पुलिस अधिकारियों की मौत की खबरों को सुनने के बाद अपनी पॉकेट मनी बचाकर जरूरतमंद लोगों की मदद करने का फैसला किया.

COVID-19: 17 साल के लड़के ने अपनी पॉकेट मनी से जरूरतमंदों लोगों को बांटी पीपीई किट और सैनिटाइजर

17 साल के लड़के ने पॉकेट मनी से बांटी पीपीई किट.

नई दिल्ली:

कोरोनावायरस (Coronavirus) के कारण देशभर के लोग मुश्किल हालातों का सामना कर रहे हैं. ऐसे में बच्चों से लेकर बढ़ों तक बहुत से लोग जरूरतमंदों की मदद के लिए आगे भी आए हैं. इसी बीच एक 17 साल के एक लड़के ने हाल ही में अपनी पॉकेट मनी से जरूरतमंदों को पीपीई किट (PPE Kit) और हैंड सैनिटाइजर (Hand Sanitizer) बांटे हैं. कोविड-19 महामारी के चलते इस लड़के ने अपनी पॉकेट मनी (Pocket Money) बचाई और इन पैसों का इस्तेमाल जरूरतमंदों की मदद के लिए किया. 

17 साल के हुसैन जाकिर ने कोरोनावायरस के कारण मेडिकल स्टाफ और पुलिस अधिकारियों की मौत की खबरों को सुनने के बाद अपनी पॉकेट मनी बचाकर जरूरतमंद लोगों की मदद करने का फैसला किया. हुसैन ने अपने 15,000 रुपये की पॉकेट मनी से कुछ पीपीई किट और अन्य सामान खरीदा और फिर जरूरदमंद लोगों में बांट दिया. 

हुसैन के इस कदम ने उसके दोस्तों को भी मदद के लिए आगे आने के लिए प्रेरित किया. इसके बाद जैसे ही रोटारैक्ट क्लब (Rotaract Club) को इसकी जानकारी मिली थी तो उन्होंने हुसैन को क्लब का प्रेसिडेंट बना दिया. एक प्रेस रिलीज के मुताबिक, ''17 वर्षीय हुसैन जाकिर कम्युनिटी बेस्ड रोटारैक्ट क्लब के सबसे युवा प्रमुख हैं''. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

इस बारे में बात करते हुए जाकिर के पिता ने कहा, ''एक दिन हुसैन बहुत परेशान हो गया तो मैंने उससे पूछा कि उसे क्या हुआ तो उसने मुझसे मदद मांगी. मुझे बहुत खुशी है कि मेरा बेटा इतनी कम उम्र से ही दूसरे लोगों की मदद कर रहा है''. 

एक चौकीदार ने कहा, ''कोविड-19 के बारे में पता चलने के बाद हम काफी डर गए थे क्योंकि हम न तो घर जा सकते थे और न ही यहां रह सकते थे. इस बारे में जब हुसैन को पता चला तो उसने मुझे दाल, पीपीई किट और सैनिटाइजर दिए. हमें खुशी है कि उन्होंने इतनी कम उम्र में हमारी मदद की''.