Chhapaak Official Trailer: लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी पर बनी है फिल्म 'छपाक', जानिए इनकी जिंदगी से जुड़ी 10 बातें

फिल्म 'छपाक' लक्ष्मी अग्रवाल के जीवन पर ही आधारित है. दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) लक्ष्मी अग्रवाल का किरदार निभा रही हैं. फिल्म 'छपाक' ट्रेलर रिलीज़ ( Chhapaak Official Trailer) हो चुका है. 

Chhapaak Official Trailer: लक्ष्मी अग्रवाल की जिंदगी पर बनी है फिल्म 'छपाक', जानिए इनकी जिंदगी से जुड़ी 10 बातें

Chhapaak Trailer हुआ रिलीज़, लक्ष्मी अग्रवाल के किरदार में नज़र आईं दीपिका पादुकोण

नई दिल्ली:

Chhapaak Official Trailer: दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) फिल्म 'छपाक' (Chhapaak) में एसिड अटैक सरवाइवर 'लक्ष्मी अग्रवाल' का किरदार निभा रही हैं. फिल्म का ट्रेलर रिलीज हो चुका है और फैन्स दीपिका पादुकोण की एक्टिंग की जमकर तारीफ कर रहे हैं. इस फिल्म के जरिए समाज में महिलाओं के प्रति बढ़ते अपराधों को दिखाया गया है. 2:20 सेकंड के इस ट्रेलर को देखकर फैन्स के आंसू छलक आए हैं. दीपिका फिल्म में मालती (Malti's Acid Attack) नाम का किरदार निभा रही हैं. इस फिल्म को मेघना गुलजार (Meghna Gulzar) ने डायरेक्ट किया है. यह फिल्म 10 जनवरी 2020 को रिलीज होगी. यहां जानिए एसिड अटैक सरवाइवर 'लक्ष्मी अग्रवाल' की जिंदगी से जुड़ी कुछ खास बातें...

1. लक्ष्मी का जन्म नई दिल्ली के एक मिडिल क्लास परिवार में हुआ, 15 साल की उम्र में उनपर नई दिल्ली के तुगलक रोड के पास तीन पुरुषों ने एसिड से हमला किया. 
 
2. एसिड घटनाओं पर लगाम लगाने के लिए लक्ष्मी ने एसिड बिक्री पर बैन लगाने वाला स्टॉप एसिड अटैक्स (#StopSaleAcid) अभियान की शुरुआत की, जिसे शुरू करने के लिए एक याचिका पर 27,000 हस्ताक्षर एकत्रित किए गए. 

3. लक्ष्मी अग्रवाल को उनके स्टॉप सेल एसिड  #StopSaleAcid अभियान के लिए यूनिसेफ से अंतर्राष्ट्रीय महिला सशक्तिकरण पुरस्कार 2019 मिला. इससे पहले लक्ष्मी को पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा की पत्नी मिशेल ओबामा से साल 2014 में International Women of Courage Award मिला था. इसके साथ ही लक्ष्मी ने साल 2016 में लंदन फैशन वीक में हिस्सा लिया, कई टीवी और वेब शोज़ भी किए. 

4. 2013 में, सुप्रीम कोर्ट ने लक्ष्मी और और एसिड विक्टिम रूपा की याचिका के पक्ष में फैसला सुनाया, जिससे एसिड की बिक्री पर प्रतिबंध का एक नया सेट बना. नए नियमों के तहत, 18 साल से कम उम्र के किसी भी व्यक्ति को एसिड नहीं बेचा जा सकता है. एसिड खरीदने से पहले एक फोटो पहचान पत्र प्रस्तुत करना भी आवश्यक है.

5. दोषियों को जेल पहुंचाने और एसिड की बिक्री के साथ ही लक्ष्मी की जिंदगी में आर्थिक चुनौती काफी हावी रही. लक्ष्मी सिर्फ 10वीं पास हैं और ब्यूटी पार्लर का काम उन्हें आता है. लेकिन उनके चेहरे की वजह से उन्हें काम नहीं मिलता. 

6. साल 2018 में हिंदुस्तान टाइम्स में छपी खबर के मुताबिक लक्ष्मी अग्रवाल दर-दर की ठोकरे खाने को मजबूर थीं. उनके पास ना तो जॉब थी और ना ही अपनी बेटी को पालने के लिए पैसे. दिल्ली के लक्ष्मी नगर में किराए पर दो बेडरूम का घर था, जिसका किराया भी अब उनके बूते से बाहर हो गया था. वह नौकरी की तलाश में घूम रही थीं. वहीं, लक्ष्मी के पार्टनर आलोक दीक्षित का कहना था कि वो अब लक्ष्मी और बेटी पीहू को पैसों की कोई भी मदद नही कर सकते. 

7. लक्ष्मी का कहना था, '4 साल पहले ही मेरी लाइफ बिल्कुल परफेक्ट लग रही थी. मैंने Stop Acid Attack Campaign के फाउंडर Alok Dixit के साथ लिव-इन में रहने का फैसला किया. हमें एक बेटी भी हुई. लेकिन बेटी होने के बाद हम दोनों अलग हो गए और मैंने बेटी की जिम्मेदारी ली. एक एनजीओ में मैंने 10 हज़ार रुपए महीने की सैलरी पर काम भी किया. लेकिन साल 2017 में वो भी छोड़नी पड़ी.  

8. लक्ष्मी का काम कहना है कि इंडिया में करीब 500 एसिड विक्टिम हैं, जिन्हें लोगों की दया तो मिल जाती है लेकिन पैसे नहीं. मुझे सुप्रीम कोर्ट की तरफ से बतौर क्षतिपूर्ति 3 लाख रुपए मिले थे, जो मेरी सर्जरी और प्रेग्नेंसी में खर्च हो गए.

9. लक्ष्मी अग्रवाल की इस कहानी को सुनकर बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार आगे आए और 5 लाख रुपए मदद के लिए दिए ताकि लक्ष्मी की आर्थिक स्थिति में कुछ सुधार हो सके. इसके अलावा इस खबर के बाद कई लोग और भी उनकी मदद को आगे आए, साथ ही जॉब भी ऑफर की. बता दें, आलोक दीक्षित के आगरा और लखनऊ में Sheroes नाम के दो कैफे भी हैं. इस कैफे में एसिड विक्टिम ही काम करती हैं.

10. फिल्म 'छपाक' लक्ष्मी अग्रवाल के जीवन पर ही आधारित है. दीपिका पादुकोण (Deepika Padukone) लक्ष्मी अग्रवाल का किरदार निभा रही हैं. फिल्म 'छपाक' ट्रेलर रिलीज़ ( Chhapaak Official Trailer) हो चुका है. 

 'छपाक' ट्रेलर ( Chhapaak Official Trailer)

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com