NDTV Khabar

डेंगू का इलाज संभव! ‘मोनोक्लोनल एंटीबॉडी’ से 2 दिन में जल्द हो सकेगा उपचार

रोग का पता चलने के बाद मोनोक्लोनल एंटीबॉडी 24 से 48 घंटे के अंदर डेंगू का उपचार कर देगा और यह एक बड़ी कामयाबी होगी.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डेंगू का इलाज संभव! ‘मोनोक्लोनल एंटीबॉडी’ से 2 दिन में जल्द हो सकेगा उपचार

डेंगू के इलाज के लिए एक ‘मोनोक्लोनल एंटीबॉडी’ विकसित करने का दावा

पुणे:

सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया (एसआईआई) ने कहा कि उसने डेंगू के इलाज के लिए एक ‘मोनोक्लोनल एंटीबॉडी' विकसित की है.पूनावाला समूह के अध्यक्ष साइरस पूनावाला ने यहां कहा, ‘‘हमने डेंगू के इलाज के लिए मोनोक्लोनल एंटीबॉडी विकसित की है. हमारे चिकित्सीय परीक्षण अंतिम चरण में हैं और इसके बाद हम सरकार का रूख करेंगे.''

उन्होंने कहा कि यह टीके से कहीं बेहतर होगा.

उन्होंने कहा, ‘‘रोग का पता चलने के बाद मोनोक्लोनल एंटीबॉडी 24 से 48 घंटे के अंदर डेंगू का उपचार कर देगा और यह एक बड़ी कामयाबी होगी.''

एसआईआई ने पुणे में 3000 करोड़ रूपये की लागत से एक उत्पादन संयंत्र का उद्घाटन किया है.

कैसे होता है डेंगू?
डेंगू (Dengue) एडिज मच्छर के काटने से होता है, इस बात से हर कोई वाकिफ है. डेंगू के सबसे खतरनाक लक्षणों में हड्डियों का दर्द शामिल है. इसी वजह से डेंगू बुखार (Dengue Fever) को 'हड्डीतोड़ बुखार' के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि इससे पीड़ितों को इतना अधिक दर्द होता है कि जैसे उनकी हड्डियां टूट गई हो. डेंगू खासतौर पर बारिश के मौसम में होता है. क्योंकि इसी दौरान एडिज मच्छरों (Aedes Mosquito) को पनपने के लिए भरपूर पानी मिलता है. 

टिप्पणियां

डेंगू के लक्षण (Dengue Symptoms)
1. त्वचा पर चकत्ते
2. तेज सिर दर्द
3. पीठ दर्द
4. आंखों में दर्द
5. तेज़ बुखार
6. मसूड़ों से खून बहना
7. नाक से खून बहना
8. जोड़ों में दर्द
9. उल्टी
10. डायरिया


यहां जानिए डेंगू से लड़ने के लिए कुछ घरेलू उपाय...   



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement