कोविड की दवा विकसित करने के लिए आयोजित किया जा रहा ''ड्रग डिस्कवरी हैकाथन'

मानव संसाधन विकास मंत्रालय और वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) द्वारा संयुक्त रूप से यह पहल की जा रही है. सीएसआईआर कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए कई कदम उठा रहा है.

कोविड की दवा विकसित करने के लिए आयोजित किया जा रहा ''ड्रग डिस्कवरी हैकाथन'

सीएसआईआर कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए कई कदम उठा रहा है.

नई दिल्ली:

विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी मंत्री हर्षवर्धन और मानव संसाधन विकास मंत्री रमेश पोखरियाल ''निशंक'' ने बृहस्पतिवार को एक ''ड्रग डिस्कवरी हैकाथन'' परियोजना शुरू की और छात्रों और अनुसंधानकर्ताओं को इसमें भाग लेने के लिए आमंत्रित किया, जिसका उद्देश्य कोविड की एक दवा विकसित करना है.

मानव संसाधन विकास मंत्रालय और वैज्ञानिक एवं औद्योगिक अनुसंधान परिषद (सीएसआईआर) द्वारा संयुक्त रूप से यह पहल की जा रही है. सीएसआईआर कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए कई कदम उठा रहा है.


हर्षवर्धन के कार्यालय की ओर से की गई ट्वीट में कहा गया, ‘‘केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री, विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी और पृथ्वी विज्ञान मंत्री डॉ हर्षवर्धन ने मानव संसाधन विकास मंत्री डॉ रमेश पोखरियाल निशंक के साथ ''ड्रग डिस्कवरी हैकाथन'' का शुभारंभ किया.''

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


प्रधान वैज्ञानिक सलाहकार के. विजय राघवन ने भी लॉन्च कार्यक्रम में भाग लिया, जो वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से आयोजित किया गया.



(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)