दिल्‍ली में इस जगह की हवा है सबसे साफ, लगे हैं इतने लाख के प्‍यूरीफायर

इस मौसम में दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण की वजह पड़ोसी राज्यों में जल रही पराली है. प्रदूषण से निजात पाने के लिए दिल्ली में 4 नवंबर से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन स्‍कीम लागू की गई है.

दिल्‍ली में इस जगह की हवा है सबसे साफ, लगे हैं इतने लाख के प्‍यूरीफायर

नई दिल्ली:

दिल्ली में दिनोंदिन बढ़ते पॉल्यूशन का लेवल कम होने का नाम नहीं ले रहा है. दिल्ली के कई इलाकों में एयर क्वालिटी इंडेक्स यानी AQI 700 के पार चला गया है. वहीं, आज 15 नवंबर को द्वारका में AQI 900 के पार है. इस वजह से दिल्ली में N95 मास्क और एयर प्यूरीफायर की डिमांड काफी है. बढ़ते प्रदूषण के कारण बीमारियों से बचने के लिए घर हो या बाहर, हर जगह लोग मास्क का इस्तेमाल कर रहे हैं. वहीं, घरों और ऑफिसों में एयर प्यूरीफायर का इस्‍तेमाल किया जा रहा है. इस लिस्ट में पीएमओ ऑफिस भी शामिल है.

न्यूज़ एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक प्रधानमंत्री ऑफिस और छ सरकारी दफ्तरों के लिए 140 एयर प्यूरीफायर खरीदे गए, जिसके लिए केंद्रीय सरकार ने साल 2014 से 2017 के बीच में करीब 3.6 मिलियन (36 लाख रुपये) खर्च किए. इस हिसाब से देखें तो फिलहाल दिल्‍ली में पीएमओ की हवा सबसे साफ कही जा सकती है.

क्या है प्रदूषण की वजह

इस मौसम में दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण की वजह पड़ोसी राज्यों में जल रही पराली है. प्रदूषण से निजात पाने के लिए दिल्ली में 4 नवंबर से 15 नवंबर तक ऑड-ईवन स्‍कीम लागू की गई है. इस बीच कुछ दिनों के लिए प्रदूषण का स्‍तर जरूर कम हुआ था, लेकिन बुधवार से हालात फिर बदल गए और दिल्‍ली में जहरीली हवा इमरजेंसी के स्‍तर तक पहुंच गई. इसे देखते हुए दिल्‍ली-एनसीआर के स्‍कूल गुरुवार और शुक्रवार के लिए बंदर कर द‍िए गए.

लाइफस्टाइल से जुड़ी और खबरें...

Children's Day पर Bigg Boss 13 के इस सदस्य की तस्वीर हुई वायरल, पहचानिए कौन हैं ये?

Deepika Padukone ने पहली एनिवर्सरी पर पहनी सासू मां की दी हुई साड़ी, यकीन नहीं तो देखिए ये Photo

स्मृति ईरानी ने महिलाओं को दी सलाह, बोलीं - इस वजह से उन्हें नहीं मिल पाती हाई पोज़ीशन...

गले में जंजीर लटका कर करते हैं एक्सरसाइज़, Video में देखें आसिम रियाज़ की फिटनेस का राज

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com