NDTV Khabar

डिप्रेशन से बचाए लाइफ को हैपी बनाएं, रोज़ाना खाएं ये 1 फल

अंगूर से तैयार बायोएक्टिव डायटरी पोलीफिनॉल तनाव प्रेरित निराशा की स्थिति से बाहर निकलने में मददगार व इस रोग के इलाज में प्रभावी हो सकता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
डिप्रेशन से बचाए लाइफ को हैपी बनाएं, रोज़ाना खाएं ये 1 फल

डिप्रेशन से बचना है तो रोज़ खाएं अंगूर

खास बातें

  1. रोज़ाना खाएं अंगूर
  2. दिमाग में पॉजिटिव विचार बढ़ाए अंगूर
  3. नेगेटिव विचार कम कर डिप्रेशन में दिलाए राहत
नई दिल्ली: डिप्रेशन से परेशान लोग रोज़ाना अंगूर खाएं. इससे ना सिर्फ दिमाग से नकारात्मक सोच मिटेगी बल्कि लाइफ पॉजिटिव बनेगी. यह बात एक हालिया शोध में पता चली है. शोधकर्ताओं का कहना है कि भोजन में अंगूर को शामिल करने से मानसिक स्वास्थ्य पर सकारात्मक प्रभाव पड़ता है, जबकि अंगूर रहित आहार का सेवन करने वालों को निराशा व हताशा जैसे विकारों के लिए चिकित्सकों की शरण लेना पड़ सकती है. 

ऑनलाइन 'नेचर कम्यूनिकेशंस' में प्रकाशित शोध के नतीजे बताते हैं कि भोजन में अंगूर से मिलने वाले नैसर्गिक तत्वों से हताशा जैसे मनोविकार कम हो सकते हैं. 

शराब पीने से तेज़ होता है दिमाग, कैंसर और दिल के लिए भी फायदेमंद, जानें कितनी मात्रा है सही

मुख्य शोधकर्ता व न्यूयार्क के इकाह्न स्कूल ऑफ मेडिसिन में प्रोफेसर गियूलियो मारिया पसिनेत्ती ने कहा, "अंगूर रहित पोलीफिनॉल कम्पाउंड उत्तेजना से जुड़े कोशिकीय व आणविक मार्ग को निशाना बनाता है. लिहाजा इस संबंध में की गई नई खोज से निराशा व चिंताग्रस्त लोगों का इलाज संभव हो पाएगा."

कैंसर से खुद को बचाने के लिए ज़रूर खाएं ये 10 फूड

शोधकर्ता ने बताया कि अंगूर से तैयार बायोएक्टिव डायटरी पोलीफिनॉल तनाव प्रेरित निराशा की स्थिति से बाहर निकलने में मददगार व इस रोग के इलाज में प्रभावी हो सकता है. शोध में इसका उपयोग चूहे पर किया गया और नतीजा सकारात्मक आया. 

जाहिर है भोजन से जो पोषक तत्व हमारे शरीर को मिलता है वह रोगों की रोकथाम के लिए ज्यादा कारगर होता है.

INPUT - IANS

टिप्पणियां
देखें वीडियो - यूरोपीय देशों ने लौटाया भारतीय अंगूर




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement