NDTV Khabar

Guru Purnima 2019: गुरु पूर्णिमा पर अपने गुरुओं को WhatsApp और Facebook स्टेटस से करें विश

गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) के दिन ही चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan or Lunar Eclipse) भी है. तो अगर आप गुरु पूर्णिमा की पूजा करते हों सूतक काल लगते से पहले कर लें.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
Guru Purnima 2019: गुरु पूर्णिमा पर अपने गुरुओं को WhatsApp और Facebook स्टेटस से करें विश

गुरु पूर्णिमा के स्टेटस (Guru Purnima Status)

नई दिल्ली:

Guru Purnima 2019: गुरु ही हमे ज्ञान देता है और गुरु ही हमें जीवन की राह दिखाता है. जिंदगी में गुरु का स्थान कोई नहीं ले सकता. ना मां ना पिता, कोई भी शख्स जीवन में गुरु की जगह नही भर सकता. लेकिन यह भी सच है कि जिंदगी में गुरु कोई भी हो सकता है. चाहे वो आपका कोई संबंधी हो या कोई दोस्त, गुरु कोई भी हो सकता है. आपके ऐसे ही खास गुरुओं के लिए आज यहां खास स्टेटस दिए जा रहे हैं. इन स्टेटस को अपने व्हाट्सऐप और फेसबुक पर लगाइए और अपने गुरु को स्पेशल महसूस कराइए.

बता दें, गुरु पूर्णिमा (Guru Purnima) के दिन ही चंद्र ग्रहण (Chandra Grahan or Lunar Eclipse) भी है. तो अगर आप गुरु पूर्णिमा की पूजा करते हों सूतक काल लगते से पहले कर लें. यहां जानिए कब लगेगा सूतक काल... 

16 जुलाई को गुरु पूर्णिमा के दिन है चंद्र ग्रहण, जानिए शुभ मुहूर्त, पूजा विधि और महर्षि वेद व्‍यास की जन्‍मकथा


धरती कहती, अंबर कहते, गुरू आप ही वो पावन नूर है जिनसे रौशन हुआ जमाना

गुरुर ब्रह्मा गुरुर विष्णु गुरुर देवो महेश्वरः, गुरुः साक्षात्पर ब्रह्मा तस्मै श्री गुरुवे नमः

गुरु आपके उपकार का, कैसे चुकाऊं मैं मोल?
लाख कीमती धन भला...गुरु हैं मेरा अनमोल…
हैप्पी गुरु पूर्णिमा

हीरे की तरह तराशा गुरु ने
जीवन को आसान बनाया गुरु ने

जैसा कि आप गुरु के साथ चलते हैं
आप अस्तित्व के प्रकाश में चलते हैं

गुरु ही मीत है, गुरु ही प्रीत है
गुरु ही जीवन है, गुरु ही प्रकाश है

गुरु बिना ज्ञान नहीं ज्ञान बिना आत्मा नहीं, ध्यान, ज्ञान, धैर्य और कर्म सब गुरु की ही देन है...गुरु पूर्णिमा की शुभ कामनाएं

गुरु होता सबसे महान,जो देता है सबको ज्ञान
आओ इस गुरु पूर्णिमा पर करें अपने गुरु को प्रणाम 

गुरु बिना ज्ञान नहीं, ज्ञान बिना आत्मा नहीं...शुभ गुरु पुर्णिमा

मां-बाप की मूरत है गुरु, कलयुग में भगवान की सूरत है गुरु...शुभ गुरु पुर्णिमा

गुरु को पारस जानिए, करे लौह को स्वर्ण
शिष्य और गुरु जगत में, केवल दो ही वर्ण

टिप्पणियां

संस्कार की सान पर, गुरु धरता है धार...नीर-क्षीर सम शिष्य के, कर आचार-विचार...शुभ गुरु पूर्णिमा

गुरु से भेद न मानिए गुरु से रहे न दूर, गुरु बिन 'सलिल' मनुष्य है, आंखें रहते सूर...शुभ गुरु पूर्णिमा



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement