नहीं पसंद करेला, पालक और टिंडा? आपकी ज़बान नहीं, जीन्‍स हैं जिम्‍मेदार

हमारे मुंह में अलग-अलग 25 स्‍वाद ग्राही होते हैं. इनमें से  टेस्‍ट बड TAS2R38 पर सबसे ज्‍यादा रिसर्च की गई है, जिसके दो वेरिएंट  AVI और PAV हैं

नहीं पसंद करेला, पालक और टिंडा? आपकी ज़बान नहीं, जीन्‍स हैं जिम्‍मेदार

हरी सब्जियां पसंद नहीं तो आपके जीन्‍स हैं जिम्‍मेदार

नई दिल्‍ली:

अक्‍सर हमारी मांएं हमें हरी सब्‍जियां खाने के लिए नसीहतें देती रहती हैं. जबकि हममें से ज्‍यादातर लोगों को सब्‍जियां खाना पसंद नहीं होता और हम मां की डांट से बचने के लिए रोज नए बहाने बनाते रहते हैं. ऐसे लोगों के लिए एक खुशखबरी है. जी हां, हाल ही में की गई एक स्‍टडी ने हमें सॉलिड बहाना जो दे दिया है. बीबीसी में प्रकाशित स्‍टडी की रिपोर्ट के मुताबिक कुछ सब्‍जियों का आपके टेस्‍ट-बड्स से तो कुछ लेना-देना नहीं होता, लेकिन उनका सीधा संबंध आपके जीन्‍स से होता है.  

केंटुकी यूनिवर्सिटी के स्‍कूल ऑफ मेडिसन के विशेषज्ञों के मुताबिक, "हमारे मुंह में अलग-अलग 25 स्‍वाद ग्राही होते हैं. इनमें से  टेस्‍ट बड TAS2R38 पर सबसे ज्‍यादा रिसर्च की गई है, जिसके दो वेरिएंट  AVI और PAV हैं. हम में से 50 फीसदी लोग वंशानुक्रम से TAS2R38 के दोनों वेरिएंट AVI और PAV पाते हैं. ऐसे लोग कड़वा और मीठा दोनों ही स्‍वाद महसूस करते हैं. साथ ही ये विशेषकर कड़वे स्‍वाद के प्रति संवेदनशील नहीं होते हैं. वहीं अन्‍य 25 फीसदी लोगों को 'नॉन टेस्‍टर' कहा जाता है, क्‍योंकि ऐसे लोगों में AVI की दो कॉपियां होती हैं. नॉन-टेस्‍टर्स कड़वे खाने के प्रति ज़रा भी संवेदनशील नहीं होते हैं. यहां तक कि ऐसे लोगों को खाना थोड़ा मीठा लगता है. वहीं, अंतिम 25 फीसदी जिन्‍हें 'सुपर टेस्‍टर्स' कहा जाता है, उनमें PAV की दो कॉपियां होती हैं. ऐसे लोग कड़वे स्‍वाद के प्रति कुछ ज्‍यादा ही संवेदनशील होते हैं."  

वंशानुक्रम से PAV की दो कॉपियां पाने वाले लोगों को ब्रॉकली, स्‍प्राट्स, बंद गोभी, पालक और करेले जैसी सब्‍जियां बहुत ज्‍याद कड़वी लगती हैं. हालांकि इन सब्‍जियों में भरपूर मात्रा में पोषक तत्‍व पाए जाते हैं, लेकिन फिर भी कुछ लोग इन्‍हें अपने टेस्‍ट बड्स की वजह से खा ही नहीं पाते हैं. वहीं, फूड वैज्ञानिकों का कहना है कि सब्‍जियों को पूरी तरह नकार देना सेहत के लिए अच्‍छा नहीं है. जो लोग हरी पत्तेदार सब्जियां नहीं खा पाते हैं उन्‍हें उनका कड़वापन दूर करने के लिए  स्‍वादिष्‍ट तरीके से बनाकर खाने की कोशिश करनी चाहिए. 

कनेक्‍टीकट यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर वैलेरी डफी के मुताबिक, "आपके अंदर कड़वे जीन्‍स की दो कॉपियां हैं इसका मतलब यह नहीं है कि आप सब्‍जियों का मजा नहीं ले सकते हैं. खाना पकाने के तरीकों में बदलाव लाकर ऐसे खाने को मजेदार बनाया जा सकता है. सब्जियों में लहसुन डालकर या उन्‍हें ओवन में रोस्‍ट करके उसके कड़वेपन को दूर कर उसे स्‍वादिष्‍ट बनाया जा सकता है. 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

आपको बता दें कि इस सर्वे में कुल 175 लोगों ने भाग लिया. सर्वे में खुलासा हुआ कि जिन लोगों में PAV जीन्‍स की दो कॉपियां हैं वे कम हरी सब्जियां खाते हैं.      

यानी कि अगर अगली बार आपकी मम्‍मी ने आपको हरी सब्जियों के लिए डांटा तो आप उन्‍हें अपने जीन्‍स की दुहाई देकर बच सकते हैं.