NDTV Khabar

प्रेगनेंसी में हाई बीपी बन सकता है दिल के लिए खतरा

अध्ययन में सामने आया है कि जिन महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान उच्च रक्तचाप की शिकायत होती है, उनमें सामान्य महिलाओं के मुकाबले दिल की गंभीर बिमारियां होने का खतरा दोगुना तक बढ़ जाता है.

4 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
प्रेगनेंसी में हाई बीपी बन सकता है दिल के लिए खतरा
गर्भावस्‍था बेहद नाजुक स्थिति होती है. इस दौरान महिलाओं को अपने साथ-साथ अपने गर्भ में पल रहे बच्‍चे का भी पूरा ध्‍यान रखना पड़ता है. हाल ही में सामने आए एक अध्ययन में कहा गया है कि जिन महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान हाई बल्‍ड प्रेशर की शिकायत रहती है, उन्हें भविष्य में दिल से जुड़ी गंभीर बीमारियां और अवसाद का शिकार होने का खतरा रहता है.
अध्ययन में सामने आया है कि जिन महिलाओं को गर्भावस्था के दौरान उच्च रक्तचाप की शिकायत होती है, उनमें सामान्य महिलाओं के मुकाबले दिल की गंभीर बिमारियां होने का खतरा दोगुना तक बढ़ जाता है.

ऐसी महिलाओं में गर्भावस्था के बाद अवसाद का शिकार होने का खतरा पांच गुना तक बढ़ जाता है.

मैकगिल यूनिर्वसिटी की डॉक्टरल कैंडिडेट सोनिया ग्रांडी ने बताया कि यह अध्ययन बताता है कि गर्भावस्था के दौरान उच्च रक्तचाप की शिकायत वाली महिलाओं की लंबे तमय तक निगरानी करने की जरूरत है, ताकि उन्हें दिल की बीमारी के खतरों से समय रहते बचाया जा सके."

गर्भावस्‍था में खून की कमी: लक्षण, कारण और उपाय... 

शोध-पत्रिका 'पेडियाट्रिक एंड पेरिनैटल एपिडीमियोलॉजी' के ताजा अंक में यह अध्ययन प्रकाशित हुआ है.

टिप्पणियां
गर्भावस्था के दौरान उच्च रक्तचाप की शिकायत के कारण प्रीक्लैंपसिया जैसी गंभीर स्थिति का भी सामना करना पड़ सकता है, जो मां और बच्चे दोनों के लिए खतरनाक साबित हो सकता है. यह अध्ययन पहली बार गर्भ धारण करने वाली 1,46,748 महिलाओं पर किया गया.

न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस से इनपुट


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement