कठुआ रेप केस की वकील दीप‍िका सिंह रजावत की फोटो हुई Viral

कठुआ रेप केस की वकील दीपिका सिंह रजावत की जो फोटो वायरल हो रही है उसे देखकर साफ है कि वो एक बुलंद इरादों वाली महिला हैं.

कठुआ रेप केस की वकील दीप‍िका सिंह रजावत की फोटो हुई Viral

कठुआ रेप केस: वकील दीप‍िका स‍िंंह रजावत की यही फोटो वायरल हो रही है

खास बातें

  • दीप‍िका स‍िंंह रजावत कठुआ मामले की वकील हैं
  • धमक‍ियों के बावजूद वो इस केस को लड़ रही हैं
  • दीप‍िक की एक फोटो वायरल हो रही है
नई द‍िल्‍ली :

जम्‍मू-कश्‍मीर के कठुआ (Kathua Rape Case) में आठ साल की बच्‍ची के साथ बलात्‍कार ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है. हम एक ऐसे समाज में जी रहे हैं जहां बेटियां सुरक्ष‍ित नहीं हैं. मामले में दायर चार्जशीट से साफ है कि बच्‍ची के साथ किस तरह क्रूरता की सारी हदें पार करते हुए न सिर्फ उसके शरीर बल्‍कि आत्‍मा तक को छलनी कर दिया गया. यही नहीं रेप जैसे जघन्‍य अपराध पर राजनीति भी हो रही है. इससे ज्‍यादा बुरा और क्‍या हो सकता है क‍ि समाज का एक तबका बलात्‍कारियों के ही पक्ष में खड़ा हो गया है.

सभी आरोपियों ने की नार्को टेस्‍ट कराने की मांग

इन सब के बीच कठुआ रेप केस में पीड़‍िता के परिवार का मुकदमा लड़ रही वकील दीपिका सिंह रजावत की एक फोटो वायरल हो रही है. दीपिका का जिक्र करना इसलिए भी जरूरी है क्‍योंकि वो उस वक्‍त पीड़‍िता के परिवार के साथ खड़ी हुईं जब प्रशासन से लेकर स्‍थानीय लोग तक आरोपियों का समर्थन कर रहे थे. तब इस मामले पर नेशनल मीडिया का ध्‍यान भी नहीं गया था. 

बहरहाल, दीपिका सिंह रजावत की जो फोटो वायरल हो रही है उसे देखकर साफ है कि वो एक बुलंद इरादों वाली महिला हैं. यह फोटो सुप्रीम कोर्ट के बाहर मामले की सुनवाई के बाद ली गई थी. देखते ही देखते यह तस्‍वीर ट्विटर पर वायरल हो गई. आमतौर पर गलत कारणों की वजह से महिलाओं की फोटो वायरल होती हैं. उन तस्‍वीरों के वायरल होने के पीछे गलत इरादे होते हैं. लेकिन यह फोटो पूरी तरह से महिला सशक्तिकरण का प्रतीक है. 

कठुआ रेप केस पर आलिया भट्ट का बयान

यही नहीं इस फोटो को देखकर लग रहा है कि दीपिका मुसीबतों से बिना डरे अपने काम को अंजाम देने वालों में से हैं. वो किसी की फालतू बातों पर ध्‍यान दिए बिना अपने काम के जरिए मुंहतोड़ जवाब देती होंगी. तस्‍वीर में उनके आसपास मौजूद पुरुषों का झुंड उनके बुलंद इरादों के समर्थन में है न कि अपने साथ खड़ी महिला को घूरने या फब्‍तियां कसने के लिए. 

CBI जांच के ख‍िलाफ पूर्व मंत्री ने न‍िकाला जुलूस

जम्‍मू बार एसोस‍िएशन ने दीपिका पर केस छोड़ने का काफी दबाव बनाया था. इसके बावजूद वो डटी रहीं. उन्‍होंने सुप्रीम कोर्ट में हुई मामले की सुनवाई से पहले मीडिया के सामने कहा भी था, 'मेरा बलात्‍कार भी हो सकता है. मेरा कत्‍ल भी किया जा सकता है और शायद वे मुझे कोर्ट में प्रैक्टिस ही न करने दें. उन्‍होंने मुझे अलग-थलग कर दिया है. मुझे नहीं पता मैं कैसे रह पाऊंगी.' 

Newsbeep

धमकियों और बायकॉट के बावजूद दीपिका न्‍याय के लिए लड़ रही है. दीपिका के जज्‍बे को हमारा सलाम.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


Video: कठुआ रेप मामले पर राष्ट्रपति कोविंद ने जताया दुख