NDTV Khabar

शरीर में कम नमक से हो सकता है दिल के दौरे का खतरा

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शरीर में कम नमक से हो सकता है दिल के दौरे का खतरा
नई दिल्‍ली: अगर आपके आहार में नमक की मात्रा स्वास्थ्य दिशा-निर्देशों के तय मानकों से कम हो तो इससे दिल के दौरे का जोखिम बढ़ जाता है. कनाडा में हुए एक शोध में यह बात सामने आई है. विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा जारी दिशा-निर्देशों में हालांकि कहा गया है कि वयस्कों को रोजाना 5 ग्राम से कम नमक खाना चाहिए.

कनाडा के शोधकर्ताओं ने अपने शोध में इस पर जोर दिया कि 5 ग्राम पर्याप्त नहीं है. शोधकर्ताओं ने इस पारंपरिक ज्ञान को भी खारिज किया कि ज्यादा नमक खाना स्वास्थ्य के लिए गंभीर खतरे की बात है.

कनाडा के मैकमास्टर विश्वविद्यालय के प्रोफेसर सलीम यूसुफ ने कहा, "अध्ययन से पता चलता है कि तीन ग्राम से कम सोडियम के हर रोज सेवन से मृत्युदर, दिल का दौरा और हार्ट फेल्योर बढ़ जाता है."

यूसुफ ने कहा कि नमक के सेवन को बहुत ज्यादा कम स्तर पर ले जाने से शरीर का प्राकृतिक संतुलन बिगड़ सकता है. शोध के निष्कर्षो का प्रकाशन विश्व ह्दय संघ के संयुक्त कार्य समूह द्वारा 'यूरोपियन हार्ट' पत्रिका में किया गया है.

रिपोर्ट में कहा है, "हर रोज सोडियम के स्तर का 2.3 ग्राम से कम स्तर पर पहुंचना एक निश्चित समय तक के लिए संभव नहीं है. कोई प्रमाण नहीं है कि यह फायदेमंद है या हानिकारक हो सकता है."

टिप्पणियां
यूसुफ ने कहा कि इसके बजाय एक वयस्क को 7.5 से 12.5 ग्राम नमक प्रति दिन लेना चाहिए. यह तीन से पांच ग्राम सोडियम के बराबर होता है.

न्‍यूज एजेंसी आईएएनएस से इनपुट
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement