शरीर की गंध से हो सकती है मलेरिया की पहचान

चूहे के एक मॉडल पर किए गए हमारे अध्ययन में पता चला कि मलेरिया का संक्रमण होने पर चूहे के शरीर की गंध बदल गई.

शरीर की गंध से हो सकती है मलेरिया की पहचान

शरीर की गंध से मलेरिया का पता चल सकता है: अध्ययन

नई दिल्ली:

शरीर से निकलने वाली गंध के बदलने से मलेरिया से पीड़ित लोगों की पहचान की जा सकती है और ऐसा मलेरिया के लक्षण ना दिखने के बावजूद भी हो सकता है. ऐसे में पीड़ित के शरीर में ऐसी गंध निकलने लगती जिससे मच्छर उन्हें ज्यादा काटते हैं. एक अध्ययन में यह बात सामने आई. 

आवाज नहीं करते मलेरिया के मच्‍छर, बचाव के लिए अपनाएं ये Tips

‘प्रोसिडिंग्स ऑफ दि नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज ’ पत्रिका में प्रकाशित अध्ययन के मुताबिक जरुरी नहीं है कि खून की जांच से मलेरिया के संक्रमण का पता चल ही जाए. 

मलेरिया के कीटाणुओं से लड़ने में कारगर है Toothpaste

अमेरिका की पेन्सिलवेनिया स्टेट यूनिवर्सिटी की सहायक प्रोफेसर कॉनसूएलो ड मोरैस ने कहा , ‘‘चूहे के एक मॉडल पर किए गए हमारे अध्ययन में पता चला कि मलेरिया का संक्रमण होने पर चूहे के शरीर की गंध बदल गई और वह मच्छरों को ज्यादा आकर्षित करने लगे, खासकर संक्रमण के उस दौर में जब मच्छरों का संक्रामक स्तर काफी ज्यादा था.’’ 

उन्होंने कहा , ‘‘ हमने संक्रमित चूहों के शरीर की गंध में लंबे समय में होने वाले बदलावों का भी पता लगाया.’’ 

देखें वीडियो - कैसे फैलता है मलेरिया
 

 
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com