लड़के ने उड़ाया कोरोनावायरस का मजाक, चाटा टॉयलेट का सामान, आतंक का मामला दर्ज, देखें VIDEO

जब दुनिया के अलग-अलग देशों ने उस लड़के की हरकत पर आपत्ति जताई तब पुलिस ने उसे धर दबोचा. पुलिस ने उस पर अफवाहें फैलाने या आतंक का डर फैलाने का मामला दर्ज कर लिया जिससे किसी की जिंदगी खतरे में पड़ सकती है.

लड़के ने उड़ाया कोरोनावायरस का मजाक, चाटा टॉयलेट का सामान, आतंक का मामला दर्ज, देखें VIDEO

आरोपी सुपरमार्केट की शेल्‍फ को चाट रहा था और कोरोनावायरस का मजाक उड़ा रहा था

नई दिल्ली:

दुनिया भर के लोग, सरकारें, पुलिस, प्रशासन और सेलिब्रिटीज लोगों को बार-बार कोरोनावायरस (Coronavirus) जैसी खतरनाक महामारी को गंभीरता से लेने की अपील कर रहे हैं. कोविड-19 (COVID-19) को फैलने से रोकने के लिए दुनिया के कई देशों में लॉकडाउन है. लेकिन ऐसा लगता है कि कुछ लोगों के कानों में जूं भी नहीं रेंग रही है. खासतौर से ऐसे नौजवानों को तो बिल्‍कुल भी फर्क नहीं पड़ रहा है जो कोरोनावायरस को हौव्‍वा मानते हैं और उसका मजाक उड़ाते हैं. 

अमेरिका के मिसोरी के एक 26 साल के लड़के ने भी कुछ ऐसा ही किया है. मेल ऑनलाइन के मुताबिक, इस महीने की शुरुआत में सोशल मीडिया पर एक वीडियो शेयर किया गया था जिसमें कोडी फिस्‍टर नाम का एक लड़का वॉलमार्ट के शेल्‍फ में रखे टॉयलेट के सामान को चाटते हुए दिखाई दिया था. यही नहीं उसने यह कहते हुए महामारी का मजाक उड़ाया था कि कोरोनावायरस से डरता कौन है. 

हालांकि जब दुनिया के अलग-अलग देशों ने उस लड़के की हरकत पर आपत्ति जताई तब पुलिस ने उसे धर दबोचा. पुलिस ने उस पर अफवाहें फैलाने या आतंक का डर फैलाने का मामला दर्ज कर लिया जिससे किसी की जिंदगी खतरे में पड़ सकती है.

लेफ्टिनेंट जस्टिन अंगर ने एनबीसी न्‍यूज़ को बताया, "हम इस मामले को गंभीरता से ले रहे हैं, खासकर इस बीमारी के मामले में तो कोई कौताही नहीं बरत रहे हैं, जिसकी वजह से देश इन हालातों में पहुंच गया है. आपको बता दें कि कोडी के ऊपर इससे पहले आगजनी और चोरी के आरोप लग चुके हैं."

वॉरेंटन पुलिस ने अपने फेसबुक अकाउंट में इसे बारे में एक पोस्‍ट भी शेयर की है:

टीवी प्रेजेंटर पियर्स मॉर्गन समेत कई लोगों ने लड़के की इस हरकत की निंदा की है. लोगों का कहा है कि अगर उसे कोरोनावायरस होता है तो उसका इलाज ही नहीं होना चाहिए.

गौरतलब है कि अमेरिका में कोरोनावायरस के मरीजों की संख्या 82,404 पहुंच गई है. यह आंकड़ा अमेरिकी समय के मुताबिक गुरुवार शाम छह बजे तक का है. आंकड़ा जॉन हॉपकिन्स यूनिवर्सिटी के सेंटर फॉर सिस्टम साइंट एंड इंजीनियरिंग ने जारी है. रिपोर्ट् के मुताबिक अमेरिका ने कोरोनावायरस के मालमों में चीन को भी पीछे छोड़ दिया है और अब सबसे ज्यादा मरीज अमेरिका में हैं. विश्वभर में हर पांच घंटे से भी कम समय में 10 हजार केस सामने आ रहे हैं. न्यूयॉर्क में 37,802 केस सामने आए हैं, इसके बाद यह शहर कोरोना वायरस का केंद्र बिंदू बन गया है. न्यूजर्सी में 6,876 और कैलिफोर्निया में 3,802 केस दर्ज किए गए हैं. बता दें, पूरी दुनिया में कोरोना वायरस के 526,044 के मामले सामने आ चुके हैं, जबकि इससे 23,709 मौत हो चुकी है.