NDTV Khabar

सेहत के लिए रहें सचेत, पुरुषों को है इन शारीरिक लक्षणों पर नजर रखने की जरूरत

हालांकि, कुछ महत्वपूर्ण लक्षणों को नजरअंदाज करने से हो सकता है कि आप किसी बड़ी परेशानी को बुलावा दे रहे हों. शारीरिक संकेत और लक्षण कुछ ऐसे तरीके हैं, जिसमें हमारा शरीर हमें किसी गहरे असंतुलन के प्रति सचेत करता है.

2 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
सेहत के लिए रहें सचेत, पुरुषों को है इन शारीरिक लक्षणों पर नजर रखने की जरूरत

खास बातें

  1. पुरुष सामाजिक संकोच के कारण कई बार डॉक्टर को दिखाने से बचते हैं.
  2. कुछ लक्षण ऐसे हैं, जिन पर पुरुषों को नजर रखनी चाहिए.
  3. कुछ पुरुषों में इरेक्शन में भी परेशानी पेश आती है.
काम और जिंदगी के बीच संतुलन बनाए रखने की व्यस्तता के युग में महिलाओं की तुलना में पुरुषों को अपने स्वास्थ्य और फिटनेस को लेकर कम सजग देखा गया है. प्रीवेंटिव हेल्थकेयर स्पेशलिस्ट, इंडस हेल्थ प्लस के अमोल नायकवाडी ने कहा, "पुरुष सामाजिक संकोच के कारण कई बार डॉक्टर को दिखाने से बचते हैं. हालांकि, कुछ महत्वपूर्ण लक्षणों को नजरअंदाज करने से हो सकता है कि आप किसी बड़ी परेशानी को बुलावा दे रहे हों. शारीरिक संकेत और लक्षण कुछ ऐसे तरीके हैं, जिसमें हमारा शरीर हमें किसी गहरे असंतुलन के प्रति सचेत करता है. किसी व्यक्ति को इन संकेतों को समझना चाहिए." कुछ लक्षण ऐसे हैं, जिन पर पुरुषों को नजर रखनी चाहिए :
 
health natural sinus throat

Photo Credit: iStock


पायलोनिडल साइनस : यह छोटा सिस्ट या फोड़ा होता है, जोकि नितंबों के ऊपरी हिस्सों में होता है. यह ज्यादातर पुरुषों को होता है और साथ ही युवाओं में ज्यादा आम होता है. इन्फेक्शन के आम लक्षणों में बैठने या उठने में दर्द महसूस होना, सिस्ट में सूजन, उस हिस्से की त्वचा का लाल होना, उस हिस्से के आस-पास की त्वचा का पीड़ादाई हो जाना, फोड़े से खून या पस का निकलना, जख्म से बाल बाहर उभरते हुए नजर आना है.

निवारक उपाय : साफ-सफाई का ध्यान रखें, उस हिस्से को साफ और सूखा रखें साथ ही साथ लंबे समय तक बैठने से बचें.
 
 
thyroid 650

थायरॉइड : पीड़ादायी मांसपेशियां, ध्यान केंद्रित करने में परेशानी और आसानी से थकान हो जाना पुरुषों में थायरॉइड के कुछ लक्षण हैं. कुछ पुरुषों में इरेक्शन में भी परेशानी पेश आती है.

निवारक उपाय : अपने शरीर को सेहतमंद और फिट रखने के लिए प्रयास करते रहें. इसलिए आसान वर्कआउट चुनें, छुट्टियों पर जाएं, ध्यान करें या किसी हॉबी को पूरा करें जैसे संगीत सुनना या फिर डांस करना. जब आप अपने शरीर में नई ऊर्जा का संचार कर रहे हों तो, यह जरूरी है कि आपका मन भी स्वस्थ हो!
 
doctor generic

स्लीप एप्निया : महिलाओं की तुलना में पुरुषों में स्लीप एप्निया होने का खतरा दोगुना होता है. तेज खर्राटों की गंभीर समस्या, सांस ना आने पर हांफते हुए जग जाना, दिन के समय नींद आना और सिरदर्द इसके कुछ सामान्य लक्षण हैं.

निवारक उपाय : अतिरिक्त वसा को जलाने और वजन को कम करने का प्रयास करें. अपने शरीर के बॉडी मास इंडेक्स को सामान्य स्तर पर लेकर आएं. ऐसा आप अपने रोजमर्रा के भोजन में छोटे-मोटे बदलाव करके कर सकते हैं. आगे किसी प्रकार की परेशानी होने पर डॉक्टर से संपर्क करें.
new cancer 620

टेस्टिक्यूलर कैंसर : पेट के निचले हिस्से या जनांनगों में खिंचाव, कमर में दर्द, सांस लेने में तकलीफ होना, सीने में दर्द, पैरों में सूजन, टेस्टिक्यूलर कैंसर के कुछ लक्षण हैं. साथ ही टेस्टिकल्स के दूसरे हिस्से में पीड़ारहित गांठ और सूजन इसके अन्य लक्षण हैं.

निवारक उपाय : नियमित रूप से टेस्टिकल्स की जांच कराएं, ताकि कुछ भी असामान्य नजर आने पर उसकी पहचान की जा सके, जैसे आकार, वजन या बनावट में बदलाव.
 
cancer prevention vegetables fruits

Photo Credit: Istock

कोलोरेक्टल कैंसर: कोलोरेक्टल कैंसर ज्यादतार पुरुषों में नजर आता है. निम्न फाइबर युक्त भोजन करना, शराब और सिगरेट का सेवन पुरुषों में काफी अधिक होता है. पेट में लगातार होने वाला दर्द, थकान, मल में रक्त का आना, शौच की आदतों में बदलाव होना, दस्त, और बिना वजह वजन का कम हो जाना, ऐसे लक्षण हैं जिन पर नजर रखने की जरूरत है.

निवारक उपाय : उच्च वसा युक्त भोजन लेना कम कर दें और धूम्रपान करना छोड़ दें. डॉक्टर को दिखायें और नियमित जांच करायें.

 
heart attack heart disease photosynthesis

Photo Credit: iStock


दिल का दौरा : सीने में भारीपन, कुछ मिनट से अधिक समय तक हृदय के बायें हिस्से के मध्य में दर्द होना, सांस लेने में तकलीफ होना और ठंडा पसीना आना, दिल का दौरा पड़ने के कुछ चेतावनी के लक्षण हैं.

निवारक उपाय : उच्च रक्तचाप के बढ़ने से दिल का दौरान पड़ने का खतरा बढ़ जाता है. बीपी के स्तर को बनाये रखने की कोशिश करें. तनाव का प्रबंधन, सेहतमंद भोजन और नियमित व्यायाम आपके उच्च रक्तचाप को नियंत्रित रखने में मदद करते हैं.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement