NDTV Khabar

आज जान लो वो बातें, जो मां ने तुम्हें कभी नहीं बताई... 

67 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
आज जान लो वो बातें, जो मां ने तुम्हें कभी नहीं बताई... 

कई बार तुम्हारी गलतियों पर वह पापा का गुस्सा झेल लेती है.

मां और बच्चे का रिश्‍ता बेहद करीबी होता है. इसमें खूब सारा प्यार और भरोसा होता है. एक बच्चे को शायद इस दुनिया में सबसे ज्यादा विश्वास अपनी मां पर ही होता है. उसे लगता है कि उसकी मां उससे कुछ नहीं छिपाती, लेकिन क्या आप जानते हैं कि ऐसी बहुत सी बातें हैं, तो मां अपने बच्चें से शेयर नहीं करती. एक नजर उन्हीं बातों पर...

तुम्हारे आंसू...
 
baby crying

जब कभी तुम रोते हो, तो दुख मां को होता है. मां कभी अपने बच्चों से यह बात साझा नहीं कर पाती. वह बस खुद को स्ट्रॉन्ग कर तुम्हारे आंसुओं को हंसी में बदलना चाहती है. 

तुम्हारी हंसी
 
kids

सच है... मां के लिए इस दुनिया में अगर सबसे सुरीली आवाज कोई है, तो वह तुम्हारी हंसी की है. वह इसे सुनकर अपना हर दुख भूल जाती है. तभी तो वह दिन भर की थकान के बाद भी बचपन में तुम्हें बिस्तर पर लिटा कर जमकर गुदगुदी करती थी. जानते हो उसी से उसकी दिन भर की थकान दूर होती थी.

उसे भी आती है मां की याद 
 
mother daughter ad

मां इस घर और तुम्हारी परवरिश में इतनी व्यस्त हो गई है कि वह अपनी मां के पास नहीं जा पाती. लेकिन वह इस बात की शिकायत किसी से नहीं करती. न ही तुमसे यह कहती है कि उसे भी अपनी मां की याद आती है. 

तुमने उसे रुलाया है 
 
kids

हां, ऐसा एक बार नहीं कई बार हुआ है. तुम अपनी कड़वी बातों से कई बार उसका दिल तोड़ देते हो या हो सकता कि बचपन में तुम्हें बीमार देखकर या परेशान देखकर भी कई बार वह तुम्हारे लिए रोई हो. लेकिन मां यह बात तुमसे कभी शेयर नहीं करती... 

चॉकलेट उसकी भी फेवरेट है
 
love

बचपन में तुमने खूब चॉकलेट खाई हैं. कभी-कभी अपने हिस्से की खत्म करने के बाद तुमने मां के हिस्से की भी खा ली होगी. लेकिन मां ने कभी इस तुम्हें यह कहकर अपनी चॉकलेट देने से मना नहीं किया कि वह भी चॉकलेट को पसंद करती है और उसे खाना चाहती है... 

टिप्पणियां
पापा का गुस्सा
 
kids

कई बार तुम्हारी गलतियों पर वह पापा का गुस्सा झेल लेती है. लेकिन वह तुम्हें इस बात का अहसास नहीं होने देती. ताकि तुम्हारा मन उदास न हो. 

कैसे पाला है
 
kids watching tv

हो सकता है कि वह कभी कह दे कि तुम अपने आप ही इतने बड़े या समझदार नहीं हो गए... लेकिन वह इस बात को कभी तुम पर जाहिर नहीं होने देती कि तुम्हारी परवरिश में कितनी मेहनत लगी है, कि उसने तुम्हें बस नौ महीने ही पेट में ही नहीं, उसके बाद गोद में भी पाला है... कुछ इमोशन और बातें मां बस अपने मन में ही रखती है, जाने क्यों...
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement