NDTV Khabar

नवरात्रि 2017: व्रत के दौरान इन 8 तरह के भोजन से रहें दूर

नवरात्र के उपवास के दौरान राजसिक और तामसिक भोजन से दूर रहकर सात्‍‍िवक भोजन करने की सलाह दी जाती है.

756 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
नवरात्रि 2017: व्रत के दौरान इन 8 तरह के भोजन से रहें दूर

नवरात्र में अपनाएं सात्‍विक भोजन

खास बातें

  1. नवरात्र में गरिष्‍ठ और ऑयली खाने से दूर रहें
  2. मांस-मछली और दालों के बजाए खाएं आलू और लौकी
  3. साधारण नमक की जगह सेंधा नमक का इस्‍तेमाल करें
नई द‍िल्‍ली : भारत परंपराओं और त्‍योहारों का देश है. अब शरद नवरात्र का समय है यानी कि वो नौ दिन जब मां दुर्गा के नौ अवतारों की पूजा की जाती है. इस दौरान भक्‍त सुबह जल्‍दी उठकर स्‍नान करने के बाद मां दुर्गा की पूजा कर उनका आशीर्वाद लेते हैं. देवी की कृपा पाने के लिए कई भक्‍त नौ दिन तक उपवास भी रखते हैं. वैसे उपवास के पीछे वैज्ञानिक कारण भी है. दरअसल, शरद नवरात्र सितंबर-अक्‍टूबर में आते हैं और यह शरद ऋतु से ठंड की ऋतु में परिवर्तन का समय है . मौसम में आ रहे बदलाव की वजह से हमारे शरीर की इम्‍यूनिटी कम हो जाती है. ऐसे में गरिष्‍ठ, ऑयली और जंक फूड से दूर रहने की सलाह दी जाती है. नवरात्रों के दौरान उपवास रखने से शरीर की सफाई भी हो जाती है. 

अपनाएं ये हेल्थ टिप्‍स और नवरात्र व्रत में रहें फिट

कुछ भक्‍त निर्जला व्रत रखते हैं. वे पूरे दिन न कुछ खाते हैं और न ही पानी की एक बूंद भी पीते हैं. वहीं कुछ लोग दिन में एक बार खाना खाते हैं और खाने की कुछ चीजों को तो हाथ भी नहीं लगाते. हिंदु धर्म (सनातन) में भोजन को तीन श्रेण‍ियों में बांटा गया है: राजसिक भोजन, तामसी भोजन और सात्विक भोजन.  नवरात्र‍ियों में राजसिक और तामसी भोजन से दूर रहकर सिर्फ सात्‍विक आहार अपनाने की सलाह दी जाती है. 

कलश-स्थापना से होती है नवरात्रि में सुख, समृद्धि और शक्ति में वृद्धि

नवरात्र में उपवास के दौरान आपको खाने-पीने की इन चीजों से दूर रहना चाहिए: 

1. मांसाहारी भोजन 
चिकन, मटन, मछली, अंडे और अन्‍य मांसाहारी भोजन पूरी तरह से वर्जित है. यह राजसिक श्रेणी का खाना है. अगर आप उपवास नहीं कर रहे हैं तब भी आपको इस दौरान मांसाहारी भोजन से दूर रहना चाहिए. 
 
meat

2. प्‍याज और लहसुन 
भोजन को प्‍याज और लहसुन के बिना बनाने की सलाह दी जाती है. आयुर्वेद के मुताबिक मौसम में आ रहे बदलाव को देखते हुए खाने में लहसुन-प्‍याज का इस्‍तेमाल नहीं करना चाहिए. यह तामसिक भोजन की श्रेणी में आता है और इससे शरीर की गर्मी बढ़ती है. 
 
onion

3. दाल और फलियां 
उपवास के दौरान भक्‍त दालों और फलियों से भी दूर रहते हैं. इस दौरान आलू, शकरकंद, अरबी, सूरन, गाजर, खीरा और लौकी जैसी सब्‍जियों को खाने की सलाह दी जाती है. 
 
lentil

4. नमक 
उपवास के दौरान भोजन में साधारण नमक का इस्‍तेमाल करने के बजाए सेंधा नमक डालना चाहिए. 
 
salt

5. मसाले 
नवरात्र के उपवास के दौरान कुछ मसालों का इस्‍तेमाल वर्जित है. इन मसालों में हल्‍दी, हींग, सरसों या राई, मेथी दाना और गरम मसाले शामिल हैं. हालांकि आप अपने खाने का स्‍वाद बढ़ाने के लिए जीरा, हरी मिर्च, काली मिर्च और अज्‍वाइन का इस्‍तेमाल कर सकते हैं. 
 
herbs and spices for weight loss

Photo Credit: istock

6. आटा 
उपवास के दौरान मक्‍के का आटा, चावल का आटा, मैदा, गेहूं का आटा और सेंवई का इस्‍तेमाल नहीं किया जाता है. इनके बजाए आप कुट्टू और सिंघाड़े के आटे का इस्‍तेमाल कर सकते हैं. 

7. चावल
नवरात्र के उपवास के दौरान आप रोजाना इस्‍तेमाल होने वाला चावल नहीं खा सकते हैं. व्रत के लिए समा के चावल आते हैं, जिन्‍हें आप अपने भोजन में शामिल कर सकते हैं. 
 
fried rice with soya chunks

Photo Credit: Photo credits: NDTV BEEPS

8. पेय पदार्थ और शराब 
अगर आप व्रत कर रहे हैं तो इस दौरान सोडा-कोला और शराब पूरी तरह से वर्जित है. नवरात्र में वो भक्‍त भी शराब और सिगरेट से दूर रहते हैं जो व्रत नहीं करते हैं.

बहरहाल, हमारी ओर से शारदीय नवरात्र की ढेरों शुभकामनाएं!


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement