NDTV Khabar

बॉडी क्‍लॉक से न करें छेड़छाड़, हो सकता है डिप्रेशन

एक रिसर्च में कहा गया है कि शरीर की अंदरूनी घड़ी की लय में गड़बड़ी खुशी की कमी और हेल्‍थ से जुड़ी हुई है.

32 Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बॉडी क्‍लॉक से न करें छेड़छाड़, हो सकता है डिप्रेशन

बॉडी क्‍लॉक से छेड़छाड़ करने पर डिप्रेशन का खतरा बढ़ जाता है

खास बातें

  1. बॉडी क्‍लॉक में गड़बड़ी डिप्रेशन को जन्‍म दे सकती है
  2. इस बात का खुलासा एक र‍िसर्च में हुआ है
  3. रिसर्च के मुताबिक डिप्रेशन की एक वजह बायलॉजिकल क्‍लॉक में गड़बड़ी भी है
नई द‍िल्‍ली : अगर आप डिप्रेशन, जी घबराने या अकेलेपन से जूझ रहे हैं तो यह दिक्‍कत आपके शरीर की बायलॉजिकल क्‍लॉक के जुड़ी हो सकती है. 'द लैंसेट साइकेट्री' नाम की एक मैजगीन पब्‍लिश हुई एक रिसर्च में कहा गया है कि शरीर की अंदरूनी घड़ी की लय में गड़बड़ी खुशी की कमी और हेल्‍थ से जुड़ी हुई है.

डिप्रेशन से बचाए लाइफ को हैपी बनाएं, रोज़ाना खाएं ये 1 फल

हमारी 24 घंटे की बायलॉजिकल क्‍लॉक शारीरिक और व्यावहारिक कामों को कंट्रोल करती है, जिसमें लगभग सभी लोगों में शरीर के तापमान के साथ खाने की आदतें शामिल होती हैं.

अगर चाहते हैं सुकून की नींद, तो अपनाएं के 5 TIPS

यह व्यवधान या बाधाएं आराम करने के दौरान ज्यादा सक्रियता या दिन के दौरान असक्रियता से जुड़ी होती हैं.

टिप्पणियां
ग्लासगो यूनिवर्सिटी के रिसर्च राइटर लौरा लाइल ने कहा, 'हमारे निष्कर्ष बदलते दैनिक शारीरिक बायलॉजिकल क्‍लॉक की लय और मनोदशा विकारों और अच्छी अवस्था के बीच संबंध दिखाते हैं.'

Video: समय पर करवाएं डिप्रेशन का इलाज


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement