महाराष्ट्र से एमपी पैदल जा रही गर्भवती महिला ने रास्ते में दिया बच्चे को जन्म और फिर...

ऐसा मामला सामने आया है, जहां महाराष्ट्र के नासिक से पैदल वापस अपने घर मध्य प्रदेश जा रही महिला ने बीच रास्ते में एक बच्चे को जन्म दिया. 

महाराष्ट्र से एमपी पैदल जा रही गर्भवती महिला ने रास्ते में दिया बच्चे को जन्म और फिर...

महिला ने रास्ते में बच्चे को जन्म दिया.

नई दिल्ली:

यदि कोई महिला कुछ करने का ठान लेती है तो वह उसे पूरा करके ही रहती है क्योंकि एक दृढ़ निश्चय कर चुकी महिला से ज्यादा ताकतवर और कुछ नहीं होता. दरअसल, यह हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि हाल ही में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां महाराष्ट्र के नासिक से पैदल वापस अपने घर मध्य प्रदेश जा रही महिला ने बीच रास्ते में एक बच्चे को जन्म दिया. 

यह महिला अपने पति के साथ पैदल महाराष्ट्र के नासिक से मध्य प्रदेश के सतना में अपने घर जा रही थी लेकिन महिला 9 महीने की गर्भवती थी और उसको बीच रास्ते में ही प्रसव पीड़ा होने लगी. ऐसे में महिला ने बीच रास्ते में ही बच्चे को जन्म दिया.


न्यूज एजेंसी एएनआई ने एक ट्वीट में बताया कि गर्भवती महिला, महाराष्ट्र के नासिक से पैदल अपने पति के साथ एमपी के सतना में अपने घर जा रही थी और बीच रास्ते में उसने बच्चे को जन्म दिया. महिला के पति ने बताया, "बच्चे को जन्म देने के बाद हमने 2 घंटे तक आराम किया और उसके बाद एक बार फिर से 150 किलोमीटर तक की पैदल यात्रा की." 

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com


इस बारे में बात करते हुए सतना के ब्लॉक मेडिकल ऑफिसर ने कहा, ''हमें पता चला कि प्रशासन ने बॉर्डर पर उनके लिए एक बस की व्यवस्था की है और जैसे ही वो वहां पहुंचे तो हम उन्हें अस्पताल ले आए. सभी चेकअप कर लिए गए हैं और मां व बच्चा दोनों स्वस्थ हैं.''