Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com

Raksha Bandhan 2017: भाई-बहन हैं दूर तो इन मैसेजेस से दें रक्षाबंधन की बधाई

Rakhi 2017: कुछ भाई-बहन ऐसे भी हैं जो इस पर्व पर एक-दूसरे से दूर हैं. तो वो कुछ खास मैसेजेस के जरिए रक्षाबंधन की बधाई दे सकते हैं.

Raksha Bandhan 2017: भाई-बहन हैं दूर तो इन मैसेजेस से दें रक्षाबंधन की बधाई

Rakhi 2017: कुछ खास मैसेजेस के जरिए रक्षाबंधन की बधाई दे सकते हैं.

Rakhi 2017 : हिन्दू पंचांग के अनुसार श्रावण मास की पूर्णिमा के दिन मनाया जाने वाला रक्षाबंधन का त्योहार भाई-बहन के प्यार का प्रतीक है. इस मौके पर बहनें भाइयों की दाहिनी कलाई में राखी बांधती हैं, तिलक लगाती हैं और उनसे अपनी रक्षा का संकल्प लेती हैं. लेकिन  कुछ भाई-बहन ऐसे भी हैं जो इस पर्व पर एक-दूसरे से दूर हैं. तो वो कुछ खास मैसेजेस के जरिए रक्षाबंधन की बधाई दे सकते हैं.

- तिजोरी में हो लक्ष्मी का वास, काम में हो गणपति का साथ, अधूरी ना रहे कभी कोई आस, भाई तू मेरा है फर्स्ट क्लास...

- लाल गुलाबी राखी से रंग रहा संसार, सूरज की किरणे खुशियों की बहार, चांद की चांदनी अपनों का प्यार, मुबारक हो आपको राखी का त्योहार...

raksha bandhan 650 afp
Rakhi 2017: भाई-बहन ये मैसेज शेयर कर दें एक-दूसरे को बधाई

- हमारा चेहरा था फूलों सा खिला, भाई जिस दिन हमें था तू मिला, खट्टी-मीठी यादों का ताना-बाना, हम दोनों ने संग-संग है बुना...

- याद है हमें हमारा वो बचपन, वो लड़ना, वो झगड़ना और वो मना लेना, यही होता है भाई बहन का प्यार, और इसी प्यार को बढाने आ रहा है, रक्षा बन्धन का त्योहार...

यह भी पढ़ें: Raksha Bandhan 2017: इन खास बातों को क्‍या जानते हैं आप

- रंग बिरंगे मौसम में, सावन की घटा छाई!, खुशियों की सौगात लेकर बहना राखी बांधने आई!!, बहनों के हाथों से सजा आज भाई की कलाई, सभी देश वासियों को रक्षाबंधन की बधाई…

- साथ पले और साथ बड़े हुए, खूब मिला बचपन में प्यार, भाई-बहन का प्यार बढ़ाने, आया राखी का त्योहार..

raksha bandhan siblings 650 istock
Raksha Bandhan 2017: रक्षाबंधन का त्योहार भाई-बहन के प्यार का प्रतीक है. 

- चन्दन की लकड़ी फूलों का हार, अगस्त का महीना सावन की फुहार, भैया की कलाई बहन का प्यार, मुबारक हो आपको रक्षा-बन्धन का त्योहार...

- भगवान दे दिनों-दिन तुझे तरक्की, हर पल हो तेरे लिए लक्की, बीवी ना हो तेरी शक्की, अपनी बॉन्डिंग हमेशा यूं ही रहे पक्की...

यह भी पढ़ें: Raksha Bandhan 2017: आखि‍र रक्षाबंधन पर भद्रा काल में क्यों नहीं बांधी जा सकती राखी...

- सींचा है इस रिश्ते को बड़े प्यार से हमने, की कई बार कितनी गलतियां भी, शिकायतों के पिटारे भी फोड़ें कई, पर जब भी आए एक पर आंच कोई, दूसरा उसकी हिम्मत-ताकत बन जाए...
 

कब है रक्षाबंधन का शुभ समय?

रक्षाबंधन के दिन चंद्र ग्रहण होगा जो रात्रि 10.52 से शुरू होकर 12.22 तक रहेगा. चंद्र ग्रहण से 9 घंटे पूर्व सूतक लग जाएगा. इससे पहले भद्रा का प्रभाव रहेगा. चंद्रग्रहण पूर्ण नहीं होगा बल्कि खंडग्रास होगा. पंडितों के अनुसार भद्रा योग और सूतक में राखी नहीं बांधनी चाहिए. 7 अगस्त की सुबह 11.07 बजे से बाद दोपहर 1.50 बजे तक रक्षाबंधन हेतु शुभ समय है.