NDTV Khabar

ये हैं वो 10 ‘स्टूपिड’ कारण, जिनसे होता है कपल्स के बीच झगड़ा  

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
ये हैं वो 10 ‘स्टूपिड’ कारण, जिनसे होता है कपल्स के बीच झगड़ा  
टिप्पणियां

शायद ही ऐसा कोई लव कपल, लिव इन कपल या मैरेड कपल होगा जिनके बीच झगड़े नहीं होते। कभी कभार झगड़े की वजह गंभीर हो सकती है। लेकिन अमूमन इनके बीच जिस टॉपिक को लेकर झगड़ा होता है वो जानने के बाद तीसरा सोच में पड़ जाए कि वजह आखिर है क्या...
 
एक नजर उन छोटे-मोटे कारणों पर जिनको लेकर अक्सर होती है कपल्स के बीच फाइट-
 
महीने का राशन 

 
घर का राशन लाने की जिम्मेदारी अगर किसी एक पर है तो झगड़ा निश्चत है। ऐसा इसलिए, क्योंकि हो सकता है कि कोई सामान महीने के बीच में ही खत्म हो गया हो, ऐसे में जब दूसरे को उसका इस्तेमाल करने की जरूरत होगी तो जाहिर है वो अपने पार्टनर पर ताने मारेगा। यही नहीं, दूध, ब्रेड, अंडे, सब्जी, फल, पानी का बोतल जैसी चीजें, जिन्हें हर दो-तीन दिन पर खरीदना होता है, उसे बाजार से कौन लाएगा इस बात पर भी किचकिच होती ही है।
 
रिमोट
बच्चे रिमोट को लेकर झगड़ें तो समझ में आता है। वो नादान  होते हैं। लेकिन मियां-बीवी भी क्रिकेट और सास-बहू के सीरियल्स की व्यूअरशिप बढ़ाने की फेर में आपस में भिड़ जाते हैं।
 
खाने में क्या बनाऊं?
‘आज खाने में क्या है’ से ‘खाने में क्या बनाऊं’ तक मियां-बीवी में कई लेवल की बहस हो जाती है। ये ऐसी समस्या है जिसका समाधान न हमारे पूर्वजों के पास था, न ही आने वाली पीढ़ी इस मिस्ट्री को सुलझा पाएगी।
 
बिस्तर पर गीला तौलिया

अक्सर पत्नियों को पतियों से शिकायत होती है कि वो बिस्तर पर अपना गीला तौलिया फेंक देते हैं, अलमारी का सामान बेड पर बिखेर देते हैं और चीजें जगह पर नहीं रखते। श्रीमती जी का कहना गलत नहीं होता, बस टाइमिंग गलत होती है। ऑफिस के लिए फटाफट तैयार होने के फेर में उनके पति अक्सर ऐसी गलतियां कर देते हैं और फिर टोका-टोकी से बात तीखी बहस तक पहुंच जाती है।
 
घर में पोंछा लगाते ही फर्श पर चलना
एक ने घर की अभी अभी सफाई की हो, फर्श पर पोछा लगाया हो और उसके सूखने से पहले ही दूसरे पार्टनर ने जमीन पर अपने कदम के निशां बना दिए हों, तो झगड़ा तय है। अगर पोंछा कामवाली बाई ने किया और पति महाशय चप्पल पहनकर कमरे की सैर पर निकल जाएं तो भी बीवी का चेहरा देखिए, गुस्से से लाल नजर आएगा।
 
खर्राटे, बत्ती जला के सोना
कई लोग ऐसे हैं जिन्हें रोशनी में नींद नहीं आती। तो कई ऐसे भी हैं जिन्हें अंधेरे से डर लगता है और वो सो नहीं पाते। अगर दो ऐसे ही लोगों को रात साथ बितानी हो, तो किचकिच तो होगी ही।
 
ठीक इसी तरह कुछ लोग सोते वक्त खर्राटे लेते हैं। लेकिन उनके पास सो रहे लोगों की नींद में खराटों के शोर से खलल पड़ती है। अब नींद न आए तो चिड़चिड़ापन तो होगा ही। फिर झगड़ा तय।
 
टॉयलेट सीट गंदा करना
अमूमन महिलाओं को पुरुषों से ये शिकायत होती। आप समझदार हैं, वजह भी समझते ही होंगे।
 
ससुराल की बुराई
महिलाएं पति के सामने अपनी सासू मां की शिकायत करें और पुरुष पत्नी के मायकेवालों पर टीका टीप्पणी करें, तो समझो झगड़े को न्योता दिया गया है।
 
बात न सुनना
अक्सर ऐसा होता है कि जब कोई अपनी बात नॉन स्टॉप बोले जा रहा हो और दूसरा उससे सुन न रहा हो या किसी और काम में बिजी हो, तो इस बात पर भी दो लोग भिड़ जाते हैं।
 
 
बच्चे की पढ़ाई
बच्चे की पढ़ाई, उसकी परफॉर्मेंस और उसका विकास माता-पिता दोनों की जिम्मेदारी होती है। लेकिन बच्चा ट्रॉफी घर लाया तो ‘आखिर बेटा किसका है’ को लेकर झगड़ा और अगर बच्चे की शिकायत स्कूल से घर पहुंची तो, ‘सब तुम्हारे लाड-प्यार का नतीजा है’ पर बहस छिड़ जाती है।
 
वो कहते हैं न, जहां नाराजगी है, प्यार भी वहीं है। इसलिए अगर आप दोनों के बीच भी इन बेमतलब सी वजहों से झगड़े होते हैं तो घबराने की बात नहीं। कुछ दिन बाद आप दोनों खुद इन पर हंसेंगे और इस झगड़े को भी इंज्वॉय करेंगे।
 




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement