NDTV Khabar

बिहार के गांव में खेती-बाड़ी कर रहा है ये मशहूर एक्‍टर

रोशेश उर्फ राजेश बिहार के बरमा गांव की काया पलट करने में लगे हुए हैं. यही नहीं उनकी कोश‍िशों की बदौलत ही गांव को बिजली नसीब हुई है.

1.3K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
बिहार के गांव में खेती-बाड़ी कर रहा है ये मशहूर एक्‍टर

ब‍िहार के बरमा गांव की कायापलट कर रहे हैं एक्‍टर राजेश कुमार

खास बातें

  1. एक्‍टर राजेश कुमार ब‍िहार के गांव में खेती कर रहे हैं
  2. उन्‍हें इस काम में बहुत मजा आ रहा है
  3. राजेश टीवी सीरियल में रोशेश का क‍िरदार न‍िभा चुके हैं
नई द‍िल्‍ली : मशहूर टीवी सीरियल 'साराभाई Vs साराभाई' में रोशेश साराभाई का किरदार निभाने वाले अभिनेता राजेश कुमार इन दिनों खेती कर रहे हैं. खेती भी कोई ऐसी-वैसी नहीं बल्‍कि 'आध्‍यात्मिक खेती' यानी कि Spiritual Farming. यही नहीं इस काम के लिए उन्‍होंने मुंबई को छोड़ दिया है और अब मजे से बिहार के एक गांव में खेती-बाड़ी कर ग्रामीण जिंदगी के मजे लूट रहे हैं. 

'साराभाई vs साराभाई' का नया वीडियो : बढ़ी साहिल की मुसीबतें

द टाइम्‍स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्‍यू में राजेश ने बताया कि किस तरह उन्‍होंने Spiritual Farming की ओर रुख किया. उन्‍होंने बताया, 'मैं आम के पेड़ के नीचे बैठा था और यहीं से मुझे इसका ख्‍याल आया. ये बिलकुल बुद्ध की कहानी की तरह है.' 

टिप्पणियां
राजेश बिहार के बरमा गांव की काया पलट करने में लगे हुए हैं. यही नहीं उनकी कोश‍िशों की बदौलत ही गांव को बिजली नसीब हुई है. 
 
rajesh kumar

कभी छोटे पर्दे पर अपनी कॉमेडी से लोगों का दिल जीतने वाले राजेश इन दिनों गांव में रहकर कभी गायों को खाना खिलाते हैं तो कभी गोबर साफ करते हैं. खास बात यह है कि इन सब कामों के बीच उन्‍हें मुंबई की याद कभी नहीं आती है. 

साथ ही राजेश ने यह भी साफ किया कि उन्‍होंने खेती-बाड़ी का रुख इसलिए नहीं किया क्‍योंकि उन्‍हें काम नहीं मिल रहा था. उन्‍होंने कहा, 'जब भी कोई एक्‍टर कुछ दूसरा काम करने लगता है तो लोगों को यही लगता है कि उसके पास काम नहीं होगा. लेकिन जहां तक मेरी बात है तो मुझे टीवी में कोई चुनौतीपूर्ण किरदार नहीं मिल रहा था. यहां तक कि कुछ किदार तो रोशेश के इर्द-गिर्द ही बुने गए थे.'
 
rajesh kumar

बहरहाल, रोशेश साराभाई के किरदार को अमर बनाने वाले राजेश टीवी सीरियल में तो अपनी मजेदार कविताएं सुनाकर दर्शकों को लोट-पोट कर देते थे. लेकिन अब वो खेती-बाड़ी कर रियल लाइफ में एक गांव का भविष्‍य सुधार रहे हैं. वाकई उनका यह कदम काबिल-ए-तारीफ है.


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement