NDTV Khabar

शॉपहॉलिक : सेल सीजन में खुद को लुटने से बचाना है तो यूं करें प्लानिंग

यह एक मौका होता है अपनी पसंद का सामना कम दाम में खरीदने का. लेकिन कई बार सेल के चक्कर में हम इतनी खरीददारी कर लेते हैं कि बाद में पछताना पड़ता है. सारी बचत और सेलेरी इस सीजन में कहां छू कर दी जाती है इस बात का अंदाजा बस कमरे में कपड़ों से भरी पड़ी अलमारी ही दे सकती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
शॉपहॉलिक : सेल सीजन में खुद को लुटने से बचाना है तो यूं करें प्लानिंग

खास बातें

  1. यह एक मौका होता है अपनी पसंद का सामना कम दाम में खरीदने का.
  2. सेल का नाम सुनते ही आप बस बैग उठाकर खरीददारी करने न चल दें.
  3. रूरी चीजों की एक लिस्ट बना लें और उसी सेक्शन में जाकर शॉपिंग करें.
सेल सीजन शुरू हो गया है. हर तरफ सेल ही सेल के ऑप्श्न हैं. कहीं इसे सीजन सेल कहा जा रहा है, तो कही रीजन सेल. इससे हमें क्या, हमारे लिए तो जो मैटर करता है वह एक ही शब्द है- ' सेल'. जी हां, इस सीजन में ज्यादातर शॉपिंग के शौकीन कुछ ऐसा ही सोचते हैं. यह एक मौका होता है अपनी पसंद का सामना कम दाम में खरीदने का. लेकिन कई बार सेल के चक्कर में हम इतनी खरीददारी कर लेते हैं कि बाद में पछताना पड़ता है. सारी बचत और सेलेरी इस सीजन में कहां छू कर दी जाती है इस बात का अंदाजा बस कमरे में कपड़ों से भरी पड़ी अलमारी ही दे सकती है. अगर आपके साथ ही हर सीजन सेल के दौरान यही होता है, और सेल के बाद आपको लुटा-लुटा सा महसूस होता है, तो आपको जरूरत है सेल के दौरान शॉपिंग की प्लानिंग करने की. क्या सोच रहे हैं कि यह प्लानिंग कैसे करती है!

विश लिस्ट बनाएं
सबसे जरूरी है कि सेल का नाम सुनते ही आप बस बैग उठाकर खरीददारी करने न चल दें. सबसे पहले अपनी एक विश लिस्ट बनाएं. देखें कि आपको किन चीजों की जरूरत है और किनकी नहीं. जरूरी चीजों की एक लिस्ट बना लें और उसी सेक्शन में जाकर शॉपिंग करें. 

दोस्तों को साथ ले जाएं
दोस्तों को साथ लेकर जाना बचत का एक अच्छा ऑप्शन है. इसकी वजह यह है कि ऐसे में आप शोरूम में बिताने वाला समय डिवाइड कर देंगे. जहां अकेले जाने पर सारा टाइम आप सिर्फ अपने लिए शॉपिंग करते वहीं दोस्तों के साथ जाने का फायदा यह होगा कि शॉपिंग के दौरान उसी समय में आप सिर्फ अपने लिए नहीं दोस्तों के लिए भी चीजें पिक कर रहे होंगे. इससे आपका शॉपिंग बैग बड़ा होने से बच जाएगा. 

रिटर्न पॉलिसी करें चैक
कई बार हम यह सोचकर सामान ले लेते हैं कि सस्ता है घर जाकर ट्राई करेंगे. ठीक नहीं आया तो बदल लेंगे. अगर आप भी ऐसा ही सोचकर शॉपिंग करते हैं,तो पहले रिटर्न पॉलिसी चैक कर लें. कहीं लेने के देने न पड़ जाएं. 

टिप्पणियां
बजट के रूल न तोड़ें
सबसे जरूरी है कि आप अपना एक बजट तय करें. यह न हो कि इस महीने की बचत का सारा पैसा आप शॉपिंग पर खर्च कर चुके हों और उसके बाद क्रेडिट कार्ड का नंबर लगा दें. अंत में बिल आपको ही भरना होगा इस बात को याद रखें. 

सब्र रखें
सेल का मतलब है कि आप अपना जरूरी सामान कुछ कम दामों में खरीद सकते हैं. यहां मिलने वाला सामान फ्री नहीं है. इसलिए सब्र रखें और जरूरत का सामना ही खरीदें. 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement