NDTV Khabar

स्किन कैंसर से हो सकता है पार्किंसन बीमारी का संबंध: अध्ययन

अमेरिका स्थित मायो क्लिनिक के अनुसंधानकर्ताओं ने अपने अनुसंधान में पाया कि पार्किंसन से ग्रस्त रोगियों में पार्किंसन मुक्त लोगों के मुकाबले मेलानोमा इतिहास की चार गुना अधिक आशंका होती है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्किन कैंसर से हो सकता है पार्किंसन बीमारी का संबंध: अध्ययन

वैज्ञानिकों ने कहा है कि पार्किंसन और त्वचा कैंसर के एक घतक रूप मेलानोमा के बीच आपस में संबंध हो सकता है. उन्होंने पाया कि इनसे संबंधित प्रत्येक विकार दूसरे विकार का चार गुना अधिक जोखिम बढ़ा देता है.

अमेरिका स्थित मायो क्लिनिक के अनुसंधानकर्ताओं ने अपने अनुसंधान में पाया कि पार्किंसन से ग्रस्त रोगियों में पार्किंसन मुक्त लोगों के मुकाबले मेलानोमा इतिहास की चार गुना अधिक आशंका  होती है.

उन्होंने यह भी पाया कि मेलानोमा ग्रस्त लोगों को पार्किंसन होने की चार गुना अधिक आशंका रहती.

अनुसंधानकर्ताओं ने पार्किंसन से ग्रस्त 974 लोगों में मेलानोमा की मौजूदगी का निरीक्षण किया और उनकी तुलना पार्किंसन मुक्त 2,922 लोगों से की.

उन्होंने पाया कि परिणामों ने पार्किंसन और मेलानोमा के बीच संबंध होने का समर्थन किया.


टिप्पणियां

अध्ययन के परिणाम मायो क्लिनिक प्रोसीडिंग्स में प्रकाशित हुए हैं.

(हेडलाइन के अलावा, इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है, यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Bigg Boss 13 में सिद्धार्थ शुक्ला पर भड़कीं शहनाज गिल, कॉलर पकड़कर करने लगीं पिटाई- देखें Video

Advertisement