NDTV Khabar

तंबाकू ही नहीं गांजा भी बनाता है मसूड़ों को बीमार...

स्वास्थ्य पर बुरा असर ड़ालने वाली इन्हीं बुरी लतों में से एक है गांजे की लत. जो भारत में युवाओं के स्वास्थ्य पर बुरा असर ड़ाल रही है. इससे पहले लोगों को सलाह दी जाती थी कि तंबाकू न खाएं उससे मसूड़ों और मुंह से जुड़ी स्वस्थ्य परेशानियां हो सकती हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
तंबाकू ही नहीं गांजा भी बनाता है मसूड़ों को बीमार...

नशीले पदार्थ किसी न किसी रूप में आपकी सेहत को नुकसान पहुंचाते ही हैं. स्वस्थ रहने के लिए जरूरी है कि नशे की लत या इस आदत से उचित दूरी बना कर रखी जाए. स्वास्थ्य पर बुरा असर ड़ालने वाली इन्हीं बुरी लतों में से एक है गांजे की लत. जो भारत में युवाओं के स्वास्थ्य पर बुरा असर ड़ाल रही है. इससे पहले लोगों को सलाह दी जाती थी कि तंबाकू न खाएं उससे मसूड़ों और मुंह से जुड़ी स्वस्थ्य परेशानियां हो सकती हैं. लेकिन अब एक शोध में सामने आया है कि गांजा भी मसूड़ों बीमार बना सकता है... जी हां, गांजे के विभिन्न रूपों- भांग, हशीश या उसके तेल का लगातार सेवन करने से मसूड़ों के रोगग्रस्त होने का जोखिम बढ़ सकता है. 

कोलंबिया यूनिवर्सिटी स्कूल ऑफ डेंटल मेडिसिन से जैफर शैरिफ ने बताया, "यह तो सबको पता है कि तंबाकू का लगातार उपयोग मसूड़े के रोग के जोखिम को बढ़ा सकता है, लेकिन अब यह बात सामने आई है कि गांजे के कई रूप भी जोखिम बढ़ा सकते हैं."


शोधार्थियों ने अध्य्यन के लिए 2,000 वयस्कों का आकलन किया. इनमें करीब 27 प्रतिशत प्रतिभागियों ने बताया कि उन्होंने सालभर तक एक या अधिक बार गांजे का उपयोग किया था. 

टिप्पणियां

शोध के मुख्य लेखक शैरिफ ने कहा, "धूम्रपान जैसे अन्य कारकों पर नियंत्रण के बावजूद लगातार परिवर्तित रूप में गांजे का सेवन करने वालों को मसूड़े के रोग होने का खतरा दोगुना होता है." यह शोध 'जर्नल ऑफ पीरियोडोंटोलॉजी' में प्रकाशित किया गया है.

(इस खबर को एनडीटीवी टीम ने संपादित नहीं किया है. यह सिंडीकेट फीड से सीधे प्रकाशित की गई है।)



Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


 Share
(यह भी पढ़ें)... Ind Vs NZ: विराट कोहली ने खड़े होकर दिखाया गुस्सा फिर बैठकर करने लगे डांस, देखें TikTok Viral Video

Advertisement