NDTV Khabar

इस जहरीली सफेद चीज को रोज खा रहे हैं आप - न ये चीनी है और न ही नमक

डिब्‍बाबंद खाना, सॉसेज, चिप्‍स, इंस्‍टेंट सूप, हॉट डॉग और बियर समेत ढेरों ऐसी चीजें हैं जिनमें सोडियम ग्‍लूटामेट का इस्‍तेमाल किया जाता है. व‍िशेषज्ञों की मानें तो वयस्‍कों को इसका सेवन 1.5 मिलिग्राम से ज्‍यादा नहीं करना चाहिए. वहीं बच्‍चों को और भी कम मात्रा देनी चाहिए.

1.4K Shares
ईमेल करें
टिप्पणियां
इस जहरीली सफेद चीज को रोज खा रहे हैं आप - न ये चीनी है और न ही नमक

नमक या चीनी की तरह द‍िखने वाला सोड‍ियम ग्‍लूटामेट सेहत के ल‍िए खतरनाक है

खास बातें

  1. MSG का इस्‍तेमल पैक्‍ड फूड के साथ रेस्‍टोरेंट में क‍िया जाता है
  2. यह खाने के फ्लेवर को कई गुना बढ़ा देता है
  3. इसे खाने से शरीर को कई नुकसान होते हैं
नई द‍िल्‍ली : सोडियम ग्‍लूटामेट यानी कि E621 (मोनो सोडियम ग्‍लूटामेट (MSG)) एक ऐसी चीज है जिसे हम रोज ही खाते हैं. यह एक ऐसा एड‍िटिव है जिसे पैक्‍ड फूड के साथ ही रेस्‍टोरेंट और स्‍टॉल वाल अपने खाने में खूब इस्‍तेमाल करते हैं. यह सफेद रंग के क्रिस्‍टल की तरह होता है जो दिखने में बहुत कुछ नमक और चीनी की तरह है. इसका टेस्‍ट मीट सूप की तरह होता है. सोड‍ियम ग्‍लूटामेट किसी भी तरह के खाने में एक स्‍पेशल फ्लेवर ले आता है. यही वजह है कि खाने का स्‍वाद बढ़ाने के लिए इसे डाला जाता है. ज्‍यादा मात्रा में सोडियम ग्‍लूटामेट खाने से क्रेविंग बढ़ती है और आप ज्‍यादा खाने लगते हैं. साथ ही मोटापा भी बढ़ने लगता है. 

जानिए MSG सेहत के लिए हैं कितना खतरनाक

डिब्‍बाबंद खाना, सॉसेज, चिप्‍स, इंस्‍टेंट सूप, हॉट डॉग और बियर समेत ढेरों ऐसी चीजें हैं जिनमें सोडियम ग्‍लूटामेट का इस्‍तेमाल किया जाता है. व‍िशेषज्ञों की मानें तो वयस्‍कों को इसका सेवन 1.5 मिलिग्राम से ज्‍यादा नहीं करना चाहिए. वहीं बच्‍चों को और भी कम मात्रा देनी चाहिए. 

सोडियम ग्‍लूटामेट से होने वाले नुकसान इस प्रकार हैं:
1.
सोडियम ग्‍लूटामेट ब्रेन सेल्‍स को ड्रग्‍स की तरह नुकसान पहुंचाता है. इसे खाने से लत लग जाती है. हमारा दिमाग और खून इसे बड़े आराम से सोख भी लेते हैं. यही नहीं यह उन जीन्‍स को भी बदल देता है जो सेंस और टेस्‍ट के लिए जिम्‍मेदार हैं.

2. रिसर्च के मुताबिक पूरी दुनिया में दो लाख टन से भी ज्‍यादा सोडियम ग्‍लूटामेट की खपत होती है. इसे ज्‍यादा खाने से माइग्रेन, चक्‍कर, हार्मोन्‍स में बदलाव, घबराहट, कमजोरी, सीने में दर्द जैसी कई हेल्‍थ प्रॉब्‍लम हो सकती हैं. 

3. यह हमारी जीभ में मौजूद रीसेप्‍टर को इस कदर प्रभावित कर देता है कि हमें खाना स्‍वादिष्‍ट लगने लगता है. भले ही असलियत में उस खाने में ज़रा भी टेस्‍ट न हो. 

4. यह हमें खाने की ऐसी लत लगा देता है कि हम कभी कुछ भी खाने लगते हैं. 

ये एमएसजी है बड़ा खतरनाक, जानें आखिर क्या है इसके पीछे की कहानी

5. कुछ शोधों में इस बात का खुलासा हुआ है कि सोडियम ग्‍लूटामेट के सेवन से डायबिटीज के मामलों में बढ़ोतरी हुई है. 

6. ज्‍यादा मात्रा में सोडियम ग्‍लूटामेट खाने से अड्रीनल ग्‍लैंड (किडनी के ऊपर स्थित ग्रंथी) सही से अपना काम नहीं कर पाती है. इसके अलवा हाई ब्‍लड प्रेशर, दिल का दौरा और दूसरे तरह के खतरे भी बढ़ जाते हैं.

टिप्पणियां
वहीं, सोडियम ग्‍लूटामेट फूड निर्माताओं के लिए फायदे का सौदा है. एक तो इससे लागत कम आती है और दूसरा यह खाने का स्‍वाद भी कई गुना बढ़ा देता है जिससे सेल बढ़ जाती है. बाजार से पैक्‍ड या डिब्‍बाबंद खाना खरीदने से पहले उसका लेबल जरूर चेक करें.  उन चीजों को खरीदने से बचें जिनमें MSG का इस्‍तेमाल किया जाता है.

Video: जानिए MSG और LED शरीर को कैसे नुकसान पहुंचाते हैं?


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement