NDTV Khabar

स्टीम बाथ सिर्फ स्किन ही नहीं आपके दिल को भी बनाता है हेल्दी, बचाए इस खतरे से

स्टीम बाथ और आघात के बीच के संबंध पुरुषों और महिलाओं में समान देखे गए चाहे उनकी उम्र, बीएमआई, शारीरिक गतिविधि और सामाजिक-आर्थिक स्थिति कुछ भी हो. 

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्टीम बाथ सिर्फ स्किन ही नहीं आपके दिल को भी बनाता है हेल्दी, बचाए इस खतरे से

भाप स्नान से कम हो सकता है आघात (हार्ट अटैक) का खतरा: अध्ययन

नई दिल्ली:

स्टीम बाथ से त्वचा को तो कई फायदे मिलते हैं साथ ही यह आपके दिल के लिए फायदेमंद है. जी हां, हाल ही में हुई एक रिसर्च ने बताया कि लगातार भाप से नहाने (स्टीम बाथ) से स्ट्रोक लगने के खतरे को बहुत हद तक कम किया जा सकता है. 

इस अध्ययन में सामने आया कि हफ्ते में सात बार भाप से नहाने वाले लोगों में उन लोगों की तुलना में स्ट्रोक लगने का खतरा 61 प्रतिशत तक कम होता है जो हफ्ते में केवल एक बार भाप से नहाते हैं. 

पीरियड्स बंद होने की वजह है चावल, महिलाओं में बढ़ा रहे हैं इन बीमारियों के खतरे

ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ ब्रिस्टोल के सेटर कुनुतसोर ने कहा, “ ये परिणाम बेहद महत्त्वपूर्ण हैं और लगातार भाप से नहाने के सेहत पर पड़ने वाले कई फायदों को दर्शाते हैं.” 

विश्वभर में विकलांगता के प्रमुख कारणों में से स्ट्रोक एक है जिससे समाज पर अत्याधिक आर्थिक और मानवीय बोझ पड़ता है.
अनुसंधानकर्ताओं ने पाया कि जितने कम अंतराल पर भाप से स्नान किया जाएगा उतना ही आघात लगने का खतरा कम होता है. 


भारत का इकलौता प्राइवेट अस्पताल जहां दिल की बीमारियों का होता है Free में इलाज

स्टीम बाथ और आघात के बीच के संबंध पुरुषों और महिलाओं में समान देखे गए चाहे उनकी उम्र, बीएमआई, शारीरिक गतिविधि और सामाजिक-आर्थिक स्थिति कुछ भी हो. 

टिप्पणियां

पिछले 15 सालों तक किया गया यह अध्ययन ‘ न्यूरोलॉजी ’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ है.

देखें वीडियो - श्रद्धालु पहूंचा रहे पर्यावरण को नुकसान
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

लोकसभा चुनाव 2019 के दौरान प्रत्येक संसदीय सीट से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरों (Election News in Hindi), LIVE अपडेट तथा इलेक्शन रिजल्ट (Election Results) के लिए हमें फेसबुक पर लाइक और ट्विटर पर फॉलो करें.


Advertisement