NDTV Khabar

स्ट्रेच मार्क्स से जुड़े 5 अमेज़िंग फैक्ट्स, जिन्हें नहीं जानते होंगे आप

स्ट्रेच मार्क्स स्किन की बीच लेयर पर होते हैं जिसे डरमिस कहा जाता है. यह थोड़े वक्त के लिए त्वचा के खींचने से ही शरीर पर दिखने लगते हैं.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
स्ट्रेच मार्क्स से जुड़े 5 अमेज़िंग फैक्ट्स, जिन्हें नहीं जानते होंगे आप

स्ट्रेच मार्क्स से जुड़े फैक्ट्स

खास बातें

  1. हर स्किन टोन के अलग होते हैं स्ट्रेच मार्क्स
  2. नए स्ट्रेच मार्क्स जल्दी ठीक हो जाते हैं.
  3. स्ट्रेच मार्क्स त्वचा की ऊपरी लेयर पर नहीं होती
नई दिल्ली: स्ट्रेच मार्क्स शरीर पर एक बार हो जाएं तो इन्हें ठीक करना बहुत मुश्किल होता है. बाज़ारों की महंगी क्रीम्स से घरेलू तरीकों तक, हर चीज़ से इसका इजाल किया जाता है, तब भी इससे राहत नहीं मिलती. इसीलिए आपको यहां स्ट्रेच मार्क्स से जुड़ी पांच बातों के बारे में बता रहे हैं जिन्हें जानने के बाद इन्हें आसानी से ठीक करने में आपको मदद मिलेगी. 

शरीर से दूर करना चाहते हैं ऐसे दाग तो अपनाएं ये 4 तरीके, हमेशा के लिए मिलेगा छुटकारा

1. स्ट्रेच मार्क्स प्रेग्नेंसी और किशोर अवस्था में होते हैं
हार्मोनल बदलावों की वजह से किशोर अवस्था में शरीर पर स्ट्रेच मार्क्स आते हैं. इसके साथ ही, इनकी वजह दवाइयां भी होती है, जो कोलेजन प्रोडक्शन से टकराकर इलास्टिसिटी को कम कर देते हैं जिससे शरीर पर यह निशान उभर आते हैं. 

स्ट्रेच मार्क्स से छुटकारा पाने के ये हैं बेस्ट उपाय, ट्राई करके देखें

2. हर स्किन टोन के अलग होते हैं स्ट्रेच मार्क्स
गोरी त्वचा पर हल्के लाल और पिंक रंग के स्ट्रेच मार्क्स होते हैं. टैन त्वचा पर आपकी स्किन से लाइट कलर के स्ट्रेच मार्क्स आते हैं. वहीं, हर वक्त खींची रहने वाली त्वचा पर पिगमेंट-प्रोडक्शन सेल्स डैमेज होते हैं जिस वजह से वो सांवली हो जाते हैं.

Parineeti Chopra ने दिखाए Stretch Marks, सोशल मीडिया पर मिला ऐसा रिएक्शन
 
3. नए स्ट्रेच मार्क्स जल्दी ठीक हो जाते हैं
हल्के बैंगनी या गुलाबी रंग के स्ट्रेच मार्क्स आसानी से ठीक हो जाते हैं. वहीं, पुराने सफेद स्ट्रेच मार्क्स को ठीक करना मुश्किल होता है. अगर आपकी स्किन पर हल्के गुलाबी रंग के यह दाग हो तो समझ जाएं आपकी त्वचा से ये निशान घरेलू तरीकों से भी ठीक हो सकते हैं. इन्हें नींबू के रस और ऐलोवेरा से ठीक कर सकते हैं.   

अब स्ट्रेच मार्क्स से घबराना कैसा, जानें इनसे बचने के बेस्ट नुस्खे...

4. स्ट्रेच मार्क्स त्वचा की ऊपरी लेयर पर नहीं होती
स्किन पर साफ दिखने वाले ये स्ट्रेच मार्क्स ऊपर नहीं बल्कि बीच लेयर पर होते हैं जिसे डरमिस कहा जाता है. यह थोड़े वक्त के लिए त्वचा के खींचने से ही शरीर पर दिखने लगते हैं जैसे प्रेग्नेंसी के दौरान स्किन सिर्फ कुछ महीनों के लिए खींचती है. इस दौरान त्वचा में कोलेजन और इलास्टिन का बनना बंद हो जाता है, जिस वजह से स्किन लटक जाती है. 

नींबू का रस और पौष्टिक आहार दूर करता है स्ट्रेच मार्क्‍स

5. सिर्फ चेहरे के अलावा कहीं भी हो सकते हैं स्ट्रेच मार्क्स
हाथ, पैर, पेट और पीठ कहीं भी स्ट्रेच मार्क्स हो सकते हैं, लेकिन चेहरे पर नहीं. वहीं, सबसे ज़्यादा यह बट, पेट और थाईज़ पर होते हैं.  

टिप्पणियां
देखें वीडियो - पेट में बढ़ती चर्बी की समस्या से कैसे पाएं निजात​




Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

Advertisement