NDTV Khabar

खाना या पढ़ाई ही नहीं, बच्चों को खिलौने देते वक्त भी बरते सावधानियां, पढ़ें 5 बातें

हर अच्छे खिलौने पर लेबल लगा होता है. इस लेबल में उसका मटीरियल, वॉर्निंग और उसे रखने के तरीके के बारे में लिखा होता है.

 Share
ईमेल करें
टिप्पणियां
खाना या पढ़ाई ही नहीं, बच्चों को खिलौने देते वक्त भी बरते सावधानियां, पढ़ें 5 बातें

बच्चों के लिए खिलौने खरीदते वक्त इन बातों का रखें ध्यान

नई दिल्ली: छोटे बच्चों को खिलौने बहुत पसंद होते हैं. इसी वजह से हर कोई उन्हें तोहफे में खिलौने ही देता है. लेकिन बच्चों को सभी खिलौने नहीं देने चाहिए, इसकी वजह उन्हें इनसे दूर करना नहीं बल्कि सुरक्षा देना है. क्योंकि कई सस्ते खिलौनों में तमाम तरह के कैमिकल्स होते हैं, जो उनकी मासूम त्वचा के लिए अच्छे नहीं. इसीलिए आपको यहां 5 टिप्स बता रहे हैं, जिन्हें आप छोटे बच्चों के हाथ में खिलौने देने से पहले फॉलो करें. 

बच्चों को देना चाहते हैं मोबाइल फोन? तो ये है सही उम्र और तरीका​

1. लेबल पढ़ें
हर अच्छे खिलौने पर लेबल लगा होता है. इस लेबल में उसका मटीरियल, वॉर्निंग और उसे रखने के तरीके के बारे में लिखा होता है. इस जरूर पढ़ें क्योंकि इसे पढ़ने से आपको खिलौने के बारे में जरूरी जानकारी मिलेगी. साथ ही आपको ये भी पता चलेगा कि इस खिलौने की लाइफ कब तक है और किस वक्त के बाद इसका इस्तेमाल बंद कर देना चाहिए.  

पढ़ाई के साथ अपनाएं ये 4 TIPS, बढ़ेगी मेमोरी और रिजल्ट होगा बेहतर​

2. लूज़ रिबन या स्ट्रिंग्स
इन्हें बच्चे मुंह में डालकर खा भी सकते हैं, जिससे उन्हें भारी नुकनान पहुंच सकता है. इसीलिए सभी खिलौनों के एक्स्ट्रा रिबन या स्ट्रिंग्स को काट दें या फिर ऐसे खिलौने छोटे बच्चों के लिये ना लें. 

दूध नहीं पसंद? तो बच्चों और बड़ों को पिलाएं ये 5 तरह के Milk​

3. खिलौनों का साइज और आकार
बहुत छोटे खिलौने छोटे बच्चों के लिए खतरनाक हो सकते हैं. इसे वो मुंह में डालकर खुद को नुकसान पहुंचा सकते हैं. इसी तरह खिलौनों के आकार पर भी ध्यान दें, ये किसी भी साइड से नुकीले नहीं होने चाहिए. अगर आपके घर में एक से ज़्यादा बच्चें हैं तो कोशिश करें कि दोनों के खिलौनों के साइज और आकार एक-दूसरे को नुकसान पहुंचाने वाले ना हों. 

18 साल के बाद भी बढ़ सकता है बच्चों का कद, अपनाने होंगे ये 4 आसान तरीके​​

4. बैट्री वाले खिलौने
कई छोटे बच्चों में बैट्री को चबाने की आदत होती है. इसी वजह से छोटे बच्चों से बैट्री वाले खिलौने दूर ही रखें. क्योंकि इससे उनकी सेहत को बहुत नुकसान पहुंच सकता है. 

टिप्पणियां
5. हेलमेट
जितना ये बड़ों के लिए जरूरी है उतना ही बच्चों के लिए भी. अगर आप बच्चे को साइकिल, स्कूटर, बाइक, स्केटबोर्ड या किसी भी तरह राइडिंग करने वाला खिलौना दे रहे हैं तो उन्हें हेलमेट जरूर दें. इससे वो सुरक्षित रहेंगे. 

देखें वीडियो - खिलौना उद्योग पर नोटबंदी की मार
 


Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक और गूगल प्लस पर ज्वॉइन करें, ट्विटर पर फॉलो करे...

विधानसभा चुनाव परिणाम (Election Results in Hindi) से जुड़ी ताज़ा ख़बरों (Latest News), लाइव टीवी (LIVE TV) और विस्‍तृत कवरेज के लिए लॉग ऑन करें ndtv.in. आप हमें फेसबुक और ट्विटर पर भी फॉलो कर सकते हैं.


Advertisement